​दियारा क्षेत्र में नक्सली का दस्तक, ग्रामीणों में खोफ

महेंद्र प्रसाद, सहरसा
कोसी दियारा में लाल आतंक की चर्चा गाहे बगाहे होती रहती है। कभी अपराधी तो कभी नक्सली। लेकिन बीते दो दिनों से सलखुआ थाना के बनमा ओपी के दियारा बहियार में हथियारों से लैस कुछ लोगो की आवजाही ने लोगो को नींद खराब कर दिया है। बताया जाता है कि इस गैंग में कई महिला भी शामिल है। हालांकि स्पस्ट रूप से पुलिस भी नही मान रही है कि ये नक्सली है या कोई आपराधिक गिरोह। लेकिन दियारा बहियार में जिस ढंग से चहल कदमी हो रही है इससे लगता है कि ये नक्सली का आहट है।

शनिवार को सिमरी डीएसपी अजय नारायण यादव सूचना पर पहुची, कुछ लोगो से पूछताछ किया, फिर वापस आ गया। बताया जाता है कि नक्सली ने कुछ लोगो से लूटपाट भी किया एवं इस घटना को कही नही बोलने की धमकी भी दिया। नही तो अंजाम बुरा होने का धमकी दिया। बनमा, सहरिया के बहियार जिसका कुछ भाग दियारा में आता है, मकई के खेत मे हथियार के साथ जिसमे महिलाये भी थी कई किसान, घास काटने वाली महिलाएं भी देखा। सूचना पुकिस तक आयी,लेकिन कोई करवाई नही किया। राविबर को कई थाना के पुलिस के द्वारा गस्ती किया गया। पुलिस सड़क पर ही गस्ती कर वापस लौट गई । फिलहाल पुलिस कुछ भी बताने से परहेज कर रही है। हल्की इन बहियार जे कई भूभाग में बड़े पैमाने पर मकई की खेती हुई है। ये नक्सली इसी का फायदा उठाकर कही कोई बड़ी घटना को तो अंजाम देने की फिराक में तो नही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक लगभग दो दर्जन से ज्यादा नक्सली बनमा ओपी क्षेत्र में कई दिनों से मंडरा रहा है।

पढ़े :   बिहार विधानसभा के विशेष सत्र में GST बिल पास

कोसी दियारा में कई वर्षों से नक्सली पेर जमाने की फिराक में है- कोसी दियारा में कई वर्षो से नक्सली पेर जमाने की फिराक में है। लेकिन कोसी में रामानंद गिरोह ने उनके मंसूबे पर पानी फेर दिया।

2007 में चिड़ैया ओपी में पदस्थापित सैप जवान अर्जून सिंह की हत्या गस्ती के दौरान नक्सलियों ने कर हथियार लूट लिया था। उस समय अगर रामानंद गिरोह पुलिस के पक्ष में नहीं उतरते तो जानमाल की क्षति से इंकार भी नहीं किया जा सकता था। रामानंद गिरोह समय समय पर नक्सलियों के मनसूबे पर पानी फेरने का काम किया है। जिस कारण कोसी दियारा – फरकिया क्षेत्र में नक्सली का पैठ मजबूत नहीं हो सका है। नक्सली जमीन पर कब्जा जमाने के उद्देश्य से इस तरह की फिराक में लगा रहता है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!