IIT पटना देश के टॉप 100 शिक्षण संस्थानों में शामिल

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सोमवार को उच्च शिक्षण संस्थानों की रैंकिंग (इंडिया रैंकिंग, 2017) जारी की है। इसके तहत विभिन्न श्रेणियों में देश के टॉप 100 संस्थानों की रैंकिंग जारी की गयी है। नेशनल इंस्‍टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क यानी एनआइआरएफ द्वारा तैयार यह रैंकिंग पांच श्रेणियों में जारी हुई है, जिसमें ओवरऑल, काॅलेज, विश्वविद्यालय, मैनेजमेंट व इंजीनियरिंग श्रेणी शामिल है।

ओवरऑल व ‘विश्वविद्यालय’ रैंकिंग में पहला स्थान इंडियन इंस्टीट्यूट आॅफ साइंस (आइआइएससी), बेंगलुरु को मिला है। वहीं जेएनयू को ओवरऑल में छठा स्थान मिला। ओवरऑल श्रेणी में आइआइटी (आइएसएम) धनबाद को 53वां और आइआइटी पटना को 83वां रैंक हासिल हुआ है। 10 शीर्ष काॅलेजों की श्रेणी में डीयू के छह काॅलेज हैं।

इंजीनियरिंग  
– टॉप – आइआइटी मद्रास
– आइआइटी, पटना – 19वां
– आइआइटी, धनबाद – 23वां
– एनआइटी पटना और एनआइटी जमशेदपुर 101 से 150 की सूची में

मैनेजमेंट
– टॉप – आइआइएम अहमदाबाद
– एक्सएलआरआइ जमशेदपुर को नौवां, आइएम रांची को 25वां, बीआइटी को 53वां, एक्सआइएसएस को 75वां रैंक

कॉलेज
– टॉप – मिरांडा हाउस दिल्ली
– सेंट जेवियर कॉलेज, रांची 101-150 की सूची में

विश्वविद्यालय
– टॉप – आइआइएससी बेंगलुरु
– विनोबा भावे विवि 149वां रैंक, सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ बिहार (पटना) 158वां रैंक

फार्मेसी
– टॉप – जामिया हमदर्द
– बीआइटी, रांची – 12वां रैंक

ओवरऑल रैंकिंग
– कर्नाटक टॉप पर : कर्नाटक के आठ, पश्चिम बंगाल के सात और यूपी के सात संस्थान
– रैंकिंग के पांच आधार: शिक्षण व संसाधन, शोध व पेशेवर प्रक्रियाएं, पहुंच व समावेशिता, अवर स्नातक परिणाम और अवधारणा।

  1. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बेंगलुरु
  2. आइआइटी, मद्रास
  3. आइआइटी, मुंबई
  4. आइआइटी, खड़गपुर
  5. आइआइटी, दिल्ली
पढ़े :   राष्ट्रीय किक बॉक्सिंग में मेजबान बिहार के खिलाडियों का जलवा

ओवरऑल रैंकिंग में बिहार
टॉप 100 : आइआइटी पटना रैंक -83
101-200 : कोई नहीं

इंजीनियरिंग में बिहार
टॉप 100 : आइआइटी पटना रैंक-19
101-150 : एनआइटी, पटना
151-200 : कोई नहीं

Our Goal is to Bring Important News, Photos and Information to the Public By Using Social Media, News Paper and E-News.

Live Bihar News

Our Goal is to Bring Important News, Photos and Information to the Public By Using Social Media, News Paper and E-News.

Leave a Reply

error: Content is protected !!