दो बिहारी ने आत्महत्या रोकथाम के लिए एक ऐसी किताब बना डाली, जिसे देख विदेशी संस्थाएं भी कर रही है तारीफ

बिहार में प्रतिभावानों की कमी नही है, बिहार के युवा हर जगह अपना परचम अपने कार्यो की बदौलत लहराते रहे हैं। आज हम बात कर रहे हैं नालंदा की स्वाति कुमारी और सौरव अनुराज की जिन्होंने मिलकर एक अनोखी आत्महत्या की रोकथाम के प्रति जागरूकता फ़ैलाने वाली किताब तैयार की है, अमायरा- द एसेंस ऑफ़ लाइफ जिसकी तारीफ दुनियाभर में हो रही है।

आयरलैंड की संस्था IASP ने अपने न्यूज़लेटर के अंतरास्ट्रीय संस्करण में किताब की तारीफ करते हुए लिखा है की ये आत्महत्या की रोकथाम के प्रति जागरूकता फ़ैलाने वाली अद्भुत किताब है और चित्रों के माध्यम से सरल तरीके से अपना सन्देश लोगों तक पहुँचाने में सफल रही है।

न्यूज़लेटर में जहा दुनिया के विभिन्न देशों में सुसाइड प्रिवेंशन के लिए हो रहे काम के बारे में लिखा गया है, वहीं इंडिया में हो रहे काम के बारे में बिहार की स्वाति और सौरव के काम का उल्लेख किया गया है। IASP एक अंतराष्ट्रीय संस्था है जो WHO के साथ सुसाइड प्रिवेंशन के लिए काम करती है।

पेज नंबर सात देखें- https://www.iasp.info/pdf/newsletters/2016_november.pdf

क्या है अमायरा- द एसेंस ऑफ़ लाइफ ?
बचपन में हमने चित्रों से भरी कहानी वाली किताब बहुत पढ़ीं हैं। अमायरा भी वैसी ही किताब है जो सुसाइड जैसे गंभीर मुद्दे को एक ख़ूबसूरत कहानी के जरिये काफी रोचक तरीके और सरलता के साथ चित्रित करती है, लोगों के हालात और अन्धकार में खोये लोगों को निकलने का रास्ता भी बताती है।

अमायरा के मुख्य किरदार को निभाया है पटना निफ्ट की पूर्व छात्रा- रितिका रंजन ने। साथ ही अन्य कलाकार भी बिहार के ही हैं। साथ ही राजगीर के ख़ूबसूरत वादियों में खींची गई तसवीरें निसंदेह आपका मन मोह लेगी।

पढ़े :   बिहार में यह ठेले पर गोलगप्पे बेचने वाला लेता है 'पेटीएम' से पेमेंट, ऐसे आया यूनिक आइडिया
Share this:

Our Goal is to Bring Important News, Photos and Information to the Public By Using Social Media, News Paper and E-News.

Live Bihar News

Our Goal is to Bring Important News, Photos and Information to the Public By Using Social Media, News Paper and E-News.

Leave a Reply

error: Content is protected !!