क्लिक कर पढ़े जयनगर अनुमंडल की प्रमुख खबर

जयनगर (मधुबनी):―

15.04.2017

जयनगर अनुमंडल की प्रमुख खबरें: 

1. जयनगर प्रखंड क्षेत्र में आज सुबह के 9/45 से शुरू हुयी तेज आँधी के साथ वारिस। वारिस के साथ गिरी वर्फ के टूकड़ा ,छाया रहा घनघोर अँधेरा ,नही दिख रही थी कोई भी सामान। कई जगह टूटी बिजली के तार।

2. जयनगर नगर पंचायत क्षेत्र मे नालों की समुचित व्यवस्था नही होने के कारण जगह जगह  जमा हुयी गंदे पानी। यंत्र तंत्र लगा हुआ है कचरे की अम्बार।

3. जयनगर शहीद चौक स्थीत बिजली ट्रांसफॉर्मर मे हुयी जोड़ की आवाज। बिजली लाइन बाधित। आये दिन होती रहती है इस तरह की आवाजे। बावजूद बिजली विभाग है गहरी नींद मे कभी भी हो सकती है खतरनाक हादसा।

4. आयी वारिस और आँधी मे कई घड़ों मे हुयी छति।बाँस और बल्लौ से बनी घर आँधी के कारण गिरी।जयनगर बाँध ,उसराही नहर के पास देवधा ,बेला बेतौँहा से मिली बाँस बल्लौ द्वारा बनायी गयी घर की गिरने की ख़बर।

5. जयनगर के शहरी क्षेत्रो मे इन दिनो धरल्ले से बिक रही है केमिकल मिक्स मिठाई। जगह जगह सड़क के किनारे धूल पड़े भी बिकती है मिठाई साफ सफाय़ी की नही रहती है कोई व्यवस्था।

6. जयनगर मे सुधा दुध की किल्लत 37-40 रूपये मे बिक रही है प्लेन सुधा दुध। एरिया मैनेजर मधुबनी कॊ किया गया शिकायत। बावजूद अब तक नही हुयी इस ओर सुधार।

7. जयनगर किसान भवन के पास युद्ध स्तर पर चल रही है सड़क निर्माण की कार्य। पहले से विवादित रही है वह रास्ता अभी तक पता नही चल पायी है की आखिर वह विवादित रास्ता की कोई टेंडर भी निकली है अथवा नही। बिना शीला पट्ट की हो रही है युध स्तर पर निर्माण कार्य।

पढ़े :   11वे दिन अनशन: जिला प्रशासन सोये कुम्भकर्णी नींद, एक भी अनशनकारी मरा तो होगी मुश्किल

8. जयनगर अनुमंडल क्षेत्र मे फर्जी पत्रकारों की आयी बाढ़। पत्रकारिता से नही होती है दुर दुर तक वास्ता। मोटर साईकल पर बड़े बड़े अछरो मे लिखा होता है प्रेस। पूलिस प्रशासन सहित आम जन कॊ लगाते है चुना, करते है दलाली।

9. इन दिनो प्रेस और पूलिस लिखी हुयी मोटर साईकल मिलते है अनेक पर वह सही है या गलत इन बातो की भी होनी चाहिये जाँच पड़ताल। दोषी पाये जाने पर हो ऊन पर कानूनी कारवाई ऐसा कहना है जयनगर अनुमंडल वासियों का। नाबालिग चलाते है ज्यादा तर प्रेस और पूलिस लिखी वाहन।

10. जयनगर प्रखंड मे समय समय पर जन वितरण प्रणाली डीलर के द्वारा नही वितरण किया जाता है अनाज और तेल। इन डीलरों की कब दुकान खुलती है और बँद होती है सिर्फ डीलरों कॊ ही होती है पता उपभोगता परेशान और निराश, डीलर मालामाल।

रिपोर्ट: चंदन कुमार 

Leave a Reply