प्रेमिका से शादी करने के लिए पत्नी एवं शाली पर धारधार हथियार से किया हमला

महेंद्र प्रसाद, सहरसा

  • ​गर्भवती पत्नी व साली को धारदार हथियार से प्रहार कर किया जख्मी
  • पति अवैध का विरोध करने पर ससुराल पहुंच घटना को दिया अंजाम

अनुमंडल पुलिस सर्किल के बनमा ओपी के तैलियाहाट बाजार में शनिवार की देर शाम भागलपुर से अपने ससुराल तैलियाहाट बाजार पहुंच अपनी गर्भवती पत्नी और नवालिग साली पर धारदार हथियार से हमलाकर बुरी तरह से घायल कर फरार हो गया। गंभीर रूप से घायल दोनों को इलाज के लिए अनुमंडलीय अस्पताल सिमरी बख्तियारपुर मैं ईलाज के लिये भर्ती करवाया गया। जहां से उसे बेहतर ईलाज के लिये सहरसा रेफर कर दिया गया। इस संबंध में गर्भवती की मां ने बख्तियारपुर थाना पुलिस को फर्दबयान दे मामला दर्ज करवाई है।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि भागलपुर जिले के जबड़गंज थाने के वागबाड़ी सकुलाचक निवासी  पति प्रेम चौधरी शनिवार की देर शाम मोटरसाइकल से एक अपने सहयोगी के साथ तैलियाहाट स्थित अपने ससुराल पहुंचा। यहां आने के बाद उसने बिना कुछ कहासुनी के अपनी पत्नी पूजा देवी पर धारदार हथियार से जान मारने की नियत से वार करना शुरू कर दिया। जीजा की करतूत देख पूजा देवी की करीब 13 वर्षीय बहन रानी कुमारी शोर मचाते हुए बचाने दौड़ी तो युवक ने उसका भी हाथ और गला काटने का प्रयास किया।

हाथापाई के दौरान युवक ने पत्नी पूजा देवी का गला और हाथ का नस काट दिया और उसकी छोटी बहन रानी कुमारी के दोनों हाथों के आधे से ज्यादा नस काटकर अधमरा कर दिया। शोर गुल सुनकर युवती के परिजन के आने पर वह मोटरसाइकल से अपने सहयोगी के साथ फरार हो गया। रूप से घायल दोनों को मायके वालों ने इलाज के लिए सिमरी बख्तियारपुर के अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां से सहरसा रेफर कर दिया गया।दिये फर्दबयान में पीड़ीता की मां ने कहा है कि वह अपनी पुत्री की शादी उपरोक्त युवक से वर्ष 13 में कराया था शादी के कुछ दिन तक सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था लेकिन उसके बाद ससुराल वालो ने मेरी बेटी को मारपीट व तंगतबाह करने लगा तो वो अपनी बेटी को मायके ले आई और पति सहित ससुराल वालो पर कोर्ट में केश कर दिया लेकिन कुछ दिनों बाद समाजिक पंचायत के बाद मामला को वापस ले लिया गया । इसके बाद मेरी बेटी गर्भवती हो गई । इसी बीच मेरे दामाद का अबैध संबंध किसी अन्य लड़की से हो गया जिसका विरोध मेरी बेटी करती थी जिसके कारण शनिवार की घटना को अंजाम दिया गया ।इस संबंध में बख्तियारपुर थानाध्यक्ष उमाशंकर कामत ने बताया कि फर्दबयान को संबंधित बनमा ओपी को भेज दिया गया है।

पढ़े :   अनशन को फूल समर्थन, पूल बनाने को लेकर बिहार सरकार दे एनओसी: सासंद कैसर

Leave a Reply

error: Content is protected !!