शराब के लिए रुपये नही देने पर मारा चाकू

  • शराबबंदी के वावजूद खुले आम हो रहा है होम डिलेवरी

महेंद्र प्रसाद, सिमरी बख्तियारपूर, सहरसा

बख्तियारपूर थाना से महज मात्रा 200 गज की दूरी पर एक युवक को धार धार हथियार से मारकर बुरी तरह जख्मी कर दिया। जख्मी संजय स्वर्णकार का इलाज अनुमंडलीय अस्पताल सिमरी बख्तियारपूर में किया जा रहा है। घटना का कारण शराब पीने के लिए रुपए नही देना बताया जाता है।

आरोपी मुरारी सिंह भी गंज का ही रहने वाला है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि गंज निवासी संजय स्वर्णकार अपने घर पर था। कुछ दूरी पर ही मुरारी सिंगज का घर है। मुरारी सिंह संजय स्वर्णकार के घर पहुच शराब पीने का रुपए का मांग किया। जिससे संजय स्वर्णकार ने देने से मना किया। इसी रकनजिस में आकर मुरारी सिंह ने धार धार हथियार से वार कर जख्मी कर दिया। चाकू से वार करने पर मुह के नीचे चाकू लगा।

शराबबंदी की खुली पोल- इस घटना ने बिहार में सरकार की शराबबंदी नीति की पोल खोल कर रकह दिया। सरकार जितनी भी दावा करे लेकिन आह भी शर्क़बबन्दी फेल है। घर घर शराब की होम डिलवरी होती है। पुलिस सब कुछ जानते हुए भी मूकदर्शक बनी है।

पढ़े :   समान काम, समान वेतन के समर्थन में 17 अप्रैल से विद्यालय में जारी रहेगी तालाबंदी 

Leave a Reply

error: Content is protected !!