​जब खुद को गुस्से में समर्थक ने जिंदा जलाने का किया प्रयास

सिमरी बख्तियारपूर, सहरसा
शर्माचोक पर जाम कर रहे समर्थकों में एक समर्थक इतना आक्रोशित हो गया कि सड़क पर जल रहे तीन-चार टायर पर खुद खुद जिंदा जलने के उद्देश्य से आग में कूद गया। हालांकि वहा पर मौजूद लोगों ने तुरंत पकड़ कर उक्त आदमी को बचा लिया।

परिणाम में गड़बड़ी का आरोप लगाकर किया सड़क जाम
नगर पंचायत सिमरी बख्तियारपूर में चुनाव परिणाम में गड़बड़ी का आरोप लगाकर एक पक्ष के हारे उमीदवार के समर्थक ने शर्माचोक के पास सड़क जाम कर प्रशासन के खिलाफ नारेवाजी किया। वार्ड नंबर 6 के दूसरे स्थान पर रहे तैयबा अंसारी के समर्थकों ने गिनती में धांधली का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया।

शर्माचोक को लगभग 4 घंटे तक जाम कर यातायात ठप कर दिया। जाम की सूचना पर पहुचे सीओ धर्मेंद्र पंडित, बख्तियारपूर थानेध्यक्ष उमाकांत कामत, सलखुआ थानाध्यक्ष तरुण कुमार तरुणेश, सिमरी बीडीओ चंदा कुमारी को आक्रोश झेलना पड़ा। जाम कर रहे महिला ज्यादा की संख्या था। काफी हंगामा करने के बाद जब एक बार फिर आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर जाम को तोड़वाया गया।

गैरतलब है कि तैयबा अंसारी के समर्थक का आरोप था कि मतदान के दिन पीठासीन पदाधिकारी ने 854 कुल वोट गिरने की बात बताया, लेकिन जब यह गिनती होती है तो 860 वोट की गिनती हुई। इस तरह से धांधली किया गया। हालांकि मतदान के बाद खुद एसडीओ ने तैयबा अंसारी के लोगो को पीठासीन पशशिकारी का रिपोर्ट एवं ईवीएम में कुल वोट एक ही होना बताया। वावजूद लोगो नई अनियमितता का आरोप लगाकर सड़क जाम कर दिया।

पढ़े :   बिहार बोर्ड इंटर परीक्षा में फेल हुए छात्र स्क्रूटिनी के लिए इस दिन से करें आवेदन

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!