25 वर्षीय युवक की गला रेत हत्या 

मधुबनी(बिस्फी): मधुबनी जिला के बिस्फी थाना अंतर्गत पतौना ओपी  के बरदाहा गांव मे  25 वर्षीय युवक की गला रेत कर हत्या कर दी गयी। युवक कि पहचान बरदाहा गाँव निवासी फूलचन साह के पुत्र पुलिन कुमार साह के रूप में कि गयी। ग्रामीणों ने बताया कि 19 अप्रैल को युवक कि शादी होने वाली थी इसीलिए वो दिल्ली से घर आया था।

बीते गुरुवार को पुलिन शाम पांच बजे घर से सब्जी लाने पास के ही कटिया मे लगने वाले बाजार  गया था। काफी समय बीत जाने पर पुलिन के घर को नही पहुँचने पर परिजनों द्वारा खोजबीन शुरू की गई। काफी देर तक खोजबीन करने के बाद पुलिन का लहूलुहान शव बांध के नीचे एक खेत मे पाया गया। सूचना मिलते ही पतौना ओपी पुलिस एवं बिस्फी थानाध्यक्ष अमित कुमार अपने दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। शव को पोस्टमार्टम के लिये मधुबनी सदर अस्पताल भेज दिया गया हैं।

जानकारी के अनुसार सब्जी लेकर लौटने के बाद बरदाहा मोड़ के पास बाईक सवार दो अपराधीयो ने उसे मधेपुर का रास्ता दिखाने को कहा। पुलिन ने  हाथ के इशारे से रास्ता बताया लेकिन बाईक सवार अपराधीयो ने पुलिन को बाईक पर बैठ कर कुछ दूर तक चलने का आग्रह किया। पुलिन उनके झांसे मे आकर बाईक पर बैठ गए।

अपराधी उसे बाध की ओर ले गयें जहा जंगल मे पहले से मौजूद अन्य अपराधीयो ने मिलकर पुलिन की गला रेत कर हत्या कर दी। कुछ लोग बता रहे थे कि तीन चार अज्ञात युवक दोपहर को बरदाहा में बाइक से चक्कर लगा रहे थे। अपराधियों कि पहचान नहीं हो सकी है। वहीं घटना कि सुचना मिलते ही बेनीपट्टी डीएसपी निर्मला कुमारी भी घटना स्थल पर पहुंच मामले की जांच राजनगर एसएसबी कैम्प के स्वान खुफिया दस्ते को बुलाकर किया। लेकिन अपराधी  का कोई सुराग नही मिल पाया हैं।

पढ़े :   बिहार के इन 17 पुलिसकर्मियों को मिलेगा राष्ट्रपति पदक

घटना से परिजनों का रो-रोकर बूरा हाल है। परिजनों के चीत्कार से पूरा गांव में शोक की लहर हैं। गांव समेत अन्य इलाकों में भी ऐसी निर्मम हत्या को ले तनाव की स्थिति। शांति व्यवस्था कायम करने को मौके पर बिस्फी थानाध्यक्ष अमित कुमार व पतोना ओपी पुलिस लगातार सक्रिय देखे जा रहे हैं। डीएसपी निर्मला कुमारी ने बताया की जल्द ही अपराधी पुलिस के गिरफ्त में होंगे व परिजनों को हरसंभव मदद कि आश दिलायी।

रिपोर्ट: चंदन कुमार 

Chandan Kumar

Student/Social Activist/Blogger/News Writer

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!