खुशखबरी ! बिहार में अब एससी-एसटी और ओबीसी छात्र-छात्राओं को मिलेगी सालाना छात्रवृत्ति

राज्य सरकार एक से 10 वीं कक्षा तक छात्र-छात्रावासों के बाद अब 11 वीं और 12 वीं में पढ़ाई छात्रों को भी छात्रवृत्ति देगी। उन्हें सालाना दो से तीन हजार रुपये मिलेंगे। इस छात्रवृत्ति का लाभ पॉलिटेक्निक आईटीआई और नर्सिंग संस्थानों के छात्र-छात्राओं को भी मिलेगा यह निर्णय मंगलवार को राज्य कैबिनेट बैठक में लिया गया था। एससी, एसटी, पिछड़ा और बेहद पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं को इसका लाभ मिलेगा और इसके लिए 75% उपस्थिति अनिवार्य होगा।

इसके अलावा छात्रवृत्ति घोटाले के बाद तकनीकी संस्थानों में पहले नामित छात्र-छात्राओं का बंद हो गया छात्रवृत्ति को भी फिर से देने का निर्णय लिया गया है।

सरकार का यह निर्णय चालू वित्तीय वर्ष से लागू होगा मंगलवार को बिहार कैबिनेट ने इस फैसले को मंजूरी दी थी। जानकारी के मुताबिक इस योजना का लाभ इन वर्गों के 2,91,647 छात्र-छात्राओं को होगा।

मंगलवार को कैबिनेट बैठक में 23 एजेण्डों पर मुहर लगा एक अन्य निर्णय में कैबिनेट ने विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में वाइ-फाइ की सुविधा के लिए 25 करोड़ रुपये अतिरिक्त मंजूर किए हैं। अब यह योजना का कुल राशि 220 करोड़ से बढ़कर 245 करोड़ हो जाएगा। इस राशि से कॉलेजों में सोलर सिस्टम लगाए जाएंगे, ताकि कैप्स में वाइ-फाइ की सुविधा 24 घंटे मिल जाए।

कैबिनेट ने भूमि अधिग्रहण सेल को भी मंजूरी दी है यह परियोजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण की समस्या को हल करना होगा।

साथ ही पांच मीटर चौड़ी सड़कें सात मीटर करने का भी फैसला लिया गया।

कैबिनेट ने आईआईजीआईएमएस को विभिन्न योजनाओं के लिए 27 करोड़ मंजूर किए हैं इनमें 18 करोड़ भवन निर्माण और 9 करोड़ अनुदान के रूप में दिए गए हैं।

पढ़े :   बिहार के बगहा में इस वरिष्ठ IPS अधिकारी के नाम पर बना यह चौराहा, ...जानिए

बिजली अधिग्रहण कंपनी के निदेशक के रिक्त पदों में तीन महीने भर जाएंगे। साथ ही रिटायर हो चुके निदेशक को इतने दिनों के लिए सेवा विस्तार दिया जाएगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!