उत्तर बिहार के लोगों को राजधानी पटना जाने के लिए मिला एक और लाइफ लाइन, …जानिए

अगर आप सड़क मार्ग से हाजीपुर से राजधानी पटना जाने की सोच रहे हैं तो आपको महात्मा गांधी सेतु के विकल्प के रूप में पीपा पुल की सुविधा भी मिलेगी।

शनिवार को उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने तेरसिया-पटना के बीच गांधी सेतु के समानांतर बने पीपा पुल का उदघाटन किया। विभाग के मुताबिक यह देश का सबसे लंबा पीपा पुल है।

समारोह में तेजस्वी के साथ उनके भाई और स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव भी उपस्थित थे। पीपा पुल के निर्माण पर कुल 89 कराेड़ खर्च हुए हैं। पीपा पुल पर 12 घंटे ही परिचालन होगा। सुबह छह से शाम छह बजे तक ही इस पर गाड़ियां चलेंगी। इसके बाद गाड़ियां गांधी सेतु से जायेंगी। पुल पर लाइट की व्यवस्था नहीं होने से सुरक्षा दृष्टिकोण से शाम छह बजे के बाद परिचालन बंद कर दिया जायेगा।

ट्रैफिक एसपी प्राणतोष कुमार दास ने बताया कि फिलहाल पुल पर आवागमन की सुविधा वन-वे है, लेकिन दोपहिया वाहनों को दोनों तरफ से आवागमन की छूट दी गई है। हाजीपुर से पटना के लिए परिचालन की इजाजत होगी। पुल पर निजी छोटे वाहनों को छोड़ किसी प्रकार के मालवाहक वाहन का परिचालन नहीं होगा।

पढ़े :   पटना से जनकपुर और बोधगया से काठमांडू के लिए बस सेवा शुरू, ...जानिए

Rohit Kumar

Founder - livebiharnews.in & Blogger @ EMadad.in | STUDENT | rohitofficial.com

Leave a Reply

error: Content is protected !!