वोट बहिष्कार कर रहे ग्रामीणों को चाणक्य पॉलिसी फाउंडेशन के युवाओं ने मतदान को किया राजी

वोट बहिष्कार कर रहे ग्रामीणों को मतदान को ले किया प्रेरित

साहरघाट के रामनगर में सड़क की समस्या को लेकर वोट बहिष्कार कर रहे थे ग्रामीण,

चाणक्य पॉलिसी फाउंडेशन के युवाओं ने मतदान में नोटा का प्रयोग पर किया जागरूक

मधुबनी (मधवापुर): प्रखंड के साहर उतरी पंचायत के सैकड़ो ग्रामीण बुधवार को गांव की मुख्य सड़क की समस्या को लेकर वोट बहिष्कार को प्रदर्शन कर रहे थे। जिसकी सुचना चाणक्य पॉलिसी फाउंडेशन के युवाओं को मिली। जिसके बाद मिथिला चैप्टर के अध्यक्ष विक्रम भगत नागवंशी, संगठन प्रभारी चंदन कुमार व सहयोगी महेश कुमार पासवान रामनगर पहुंच ग्रामीणों से घंटो वार्ता के बाद मतदान को प्रेरित किया। बताते चले कि आजादी के लगभग 70 वर्षो बाद भी इस गांव को सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, पानी समेत मुलभुत सुविधाओं से वंचित रखने को लेकर ग्रामीण आक्रोशित होकर वोट बहिष्कार का निर्णय लिया। जहां फाउंडेशन के युवाओं ने ग्रामीणों को वोट बहिष्कार नहीं कर नोटा के प्रयोग कर मतदान को प्रेरित किया। जानकारी देते हुए फाउंडेशन के अध्यक्ष श्री नागवंशी ने कहा कि भारतीय संविधान व लोकतंत्र में आस्था को रखते हुए भारत के हर एक नागरिक को वोट करना चाहिए। IMG-20190417-WA0007

यहां के ग्रामीण राजनेताओं के झूठे वादे से थक कर वोट बहिष्कार का निर्णय लिया था। जहां हम युवाओं ने इन्हें अगर कोई प्रत्याशी पसंद नहीं है तो नोटा का प्रयोग कर मतदान को प्रेरित किया। ग्रामीण बौएलाल यादव, लक्ष्मण यादव व सुजीत कुमार ने बताया कि हमारे गांव में सड़क निर्माण को लेकर कई बार सांसद, विधायक समेत तमाम जनप्रतिनिधि झूठे वादे करके वोट ले लिया, लेकिन इसके निर्माण पर किसी ने तनिक भी सोंचा तक नहीं। आज भी हम ग्रामीण, स्कूली बच्चे, महिलाएं नारकीय सड़क से गुजरने को विवश है। इसलिए हम सभी ग्रामीणों ने विचार किया है कि सड़क नहीं तो वोट नहीं और लोकसभा चुनाव में नोटा बटन का प्रयोग कर मतदान में अपनी भागीदारी निभाएंगे। मौके पर रामप्रसाद यादव, रामप्रीत यादव, किशोरी यादव, रामाशीष यादव, मिथिलेश यादव, विक्रम, प्रमोद, सुनील, किरण कुमारी, फुलझड़ी देवी, सुशीला देवी, मो. मुजीबुर अंसारी व तैयब अंसारी समेत अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

पढ़े :   PM मोदी ने बिहार को दिया दिवाली गिफ्ट, ...जानिए

Leave a Reply