IAS व IPS संडे और छुट्टी के दिन फ्री में छात्रों को UPSC की करवाएंगे तैयारी, …जानिए

बिहार की राजधानी पटना के पटना यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स के लिए बड़ी खुशखबरी है। पीयू ने शताब्दी वर्ष में एक नया और बेहतर कदम बढ़ाया है, जो स्टूडेंट्स के लिए काफी मददगार साबित होने वाला है। अब पीयू में स्टूडेंट्स सिविल सर्विसेज की तैयारी मुफ्त में कर सकते हैं। इसकी शुरुआत हो चुकी है।

शुक्रवार को नेशनल एसोसिएशन ऑफ सिविल सर्विसेज बिहार एंड झारखंड तथा पटना यूनिवर्सिटी के बीच एमओयू साइन हुआ है। इस साइन के बाद पीयू के स्टूडेंट्स के साथ-साथ बिहार और झारखंड के तमाम स्टूडेंट्स पीयू में आकर सिविल सर्विसेज की तैयारी कर सकते हैं।

पढ़ाने की फ्री में व्यवस्था नेशनल एसोसिएशन ऑफ सिविल सर्विसेज (एनएसीएस) करेगा। वहीं, पीयू एनएसीएस को इन्फ्रास्ट्रक्चर दे रहा है। पीयू ने इसकी सारी जिम्मेवारी भूगर्भशास्त्र के प्रो बीके मिश्रा को दी है। इसमें देश के तमाम आइएएस, आइपीएस के साथ-साथ यूपीएससी की सिविल सर्विसेज में बिहार-झारखंड के सफल लोग फ्री में क्लास लेंगे और स्टूडेंट्स को मार्गदर्शित करेंगे। इस प्रोजेक्ट का नाम ‘मार्गदर्शन’ रखा गया है।

इस मौके पर पीयू के कुलपति प्रो रास बिहारी प्रसाद सिंह, प्रतिकुलपति प्रो डॉली सिन्हा, रजिस्ट्रार प्रो रवींद्र कुमार, डिप्टी रजिस्ट्रार प्रो नजमुज जमां, डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर प्रो एनके झा, सायंस कॉलेज के प्राचार्य प्रो सुधीर श्रीवास्तव, भूगर्भशास्त्र के हेड प्रो बीके मिश्रा के साथ एनएसीएस के बीके प्रसाद(सचिव भारत सरकार), आइएएस संतोष कुमार राय, आदित्य कुमार (आइआरएस), गणनाथ झा (आइआरएस), शनि राज (आइपीएस) मौजूद थे।

स्टूडेंट्स के लिए है अच्छा मौका
पीयू कुलपति प्रो रास बिहार प्रसाद सिंह ने कहा कि सिविल सर्विसेज की तैयारी के लिए यह अच्छा मौका है। स्टूडेंट्स को ‘मार्गदर्शन’ के माध्यम से सिविल सर्विसेज की बारे में गाइड भी किया जायेगा। स्टूडेंट्स को ग्रास रूट लेवल पर सपोर्ट किया जायेगा। इसके लिए पीयू ने एनएसीएस को जगह मुहैया करा दी है।

पढ़े :   बिहार में स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय खुलेगा, ...जानिए

यह काफी अच्छी पहल है। शताब्दी वर्ष में पीयू के लिए यह नयी उपलब्धि होगी। यहां बाहर के स्टूडेंट्स भी आकर ‘मार्गदर्शन’ के सदस्य बन सकते हैं। इसके लिए पीयू ने सायंस कॉलेज के भूगर्भशास्त्र का स्थान चुना है। क्लास वहीं होगा और यह ‘मार्गदर्शन’ सेंटर भूगर्भशास्त्र की देख-रेख में चलेगा। कुलपति ने कहा कि स्टूडेंट्स को इसमें केवल टोकन मनी के रूप में 500 रुपये देने होंगे, क्योंकि जब सेंटर चलेगा तो वहां पर एक व्यक्ति के साथ-साथ गार्ड की भी व्यवस्था की जायेगी। इसके लिए यह टोकन मनी रहेगा। क्लास केवल छुट्टी और होलीडे में चलेगी, तो इसके लिए कोई व्यक्ति जरूरी है जो स्टूडेंट्स की सुरक्षा और बाकी व्यवस्था को देख सकें। धीरे-धीरे इसके लिए लाइब्रेरी भी डेवलप किया जायेगा।

पढ़ाई के साथ-साथ मिलेगा मार्गदर्शन
एनएसीएस बीके प्रसाद ने कहा कि यहां स्टूडेंट्स की काउंसेलिंग होगी। इसके साथ पेपर वाइज पढ़ाई भी होगी। इसके लिए फेसबुक पर ‘एनएसीएस मार्गदर्शन’ नाम से पेज बनायी गयी है। क्लास की प्रक्रिया जारी है।

यह क्लास 19 और 20 अगस्त को भी चलेगी। शनिवार को संतोष कुमार राय क्लास लेंगे। यहां स्टूडेंट्स आकर डेमो क्लास कर सकते हैं। बीके प्रसाद के साथ अन्य सदस्यों ने कहा कि धीरे-धीरे यहां लाइब्रेरी भी डेवलप की जायेगी। हर संडे को 10 से दो बजे तक क्लास चलेगी। इसकी सूचना तीन दिन पहले फेसबुक पेज पर दे दी जायेगी।

अपना नोट्स भी शेयर करेंगे
वहीं, बिहार के तमाम यूपीएससी सफल लोग यहां क्लास लेंगे और अपना नोट्स भी शेयर करेंगे। इसके लिए लाइब्रेरी की व्यवस्था भी धीरे-धीरे होगी।

पढ़े :   प्रधानमंत्री आवास योजना : ग्रामीणों को अब मिलेगी 1.30 लाख की राशि, ...जानिए

150 स्टूडेंट्स का टारगेट रखा गया है। अधिक स्टूडेंट्स बढ़ने पर स्क्रीनिंग होगा, जिसके बाद उन्हें क्लास मिलेगा। सिविल सर्विसेज की तैयारी बिल्कुल ही फर्स्ट स्टेज से करायी जायेगी और स्टूडेंट्स को उनकी प्रतिभा के आधार पर काउंसेलिंग कर उन्हें पॉलिस किया जायेगा, ताकि वह सिविल सर्विस के किसी भी एग्जाम में सफल हों।

Leave a Reply