बिहार के इस विभाग को मिला ई-गवर्नेंस के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार, …जानिए

बिहार सरकार के कृषि विभाग ने राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल कर राज्य का गौरव बढ़ाया है। यह पुरस्कार उसे ई-गर्वनेंस प्रोग्राम ‘ई-एग्रीकल्चर स्कीम मॉनिटरिंग इन्फॉरमेशन सिस्टम के लिए मिला है। कम्प्यूटर सोसाइटी ऑफ इंडिया द्वारा प्रत्येक वर्ष विभिन्न मंत्रालयों, विभागों, सरकारी प्रतिष्ठानों को इ-गवर्नेंस से संबंधित बेहतर काम के लिए दिया जाता है।

सोसाइटी को वर्ष 2015-16 के लिए देश भर में संचालित ई-गर्वनेंस प्रयासों के लिए नामांकन में कुल 184 आवेदन मिले थे। कृषि विभाग, बिहार द्वारा संचालित ई-गर्वनेंस प्रोग्राम ‘ई-एग्रीकल्चर स्कीम मॉनिटरिंग इन्फॉरमेशन सिस्टम को भी नामांकन के लिए भेजा गया था। प्रत्येक नामांकन के चार चरणों से गुजरने के बाद बिहार के सिस्टम को देश के सबसे उत्कृष्ट ई-गर्वर्नेंस कार्यक्रम में एक पाया गया और कोयम्बटूर, तमिलनाडु में आयोजित सोसाइटी के 51वें वार्षिक कन्वेंशन में पुरस्कृत किया गया। पुरस्कार डॉ. अजय कुमार, अपर सचिव, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय एवं डॉ. अनिर्बान बसु, अध्यक्ष, कम्प्यूटर सोसाइटी ऑफ इण्डिया ने कृषि विभाग, बिहार को दिया।

यह पुरस्कार कृषि विभाग की योजनाओं को पारदर्शी तरीके से क्रियान्वयन के दृढ़ निश्चय को दर्शाता है। यह सिस्टम विभाग द्वारा संचालित सभी योजनाओं की ऑनलाइन मॉनिटरिंग करने के लिए तैयार किया गया है। इसके माध्यम से राज्य के सभी किसानों का ऑनलाइन पंजीकरण किया जाता है तथा पंजीकरण के उपरान्त किसानों को उपलब्ध कराने वाली यूनिक आईडी द्वारा विभाग में संचालित सभी योजनाओं का लाभ किसान प्राप्त कर सकते हैं।

पढ़े :   बिहार की बेटी बनी कराटे की नेशनल चैंपियन, पिता हैं पान दुकानदार

Leave a Reply

error: Content is protected !!