बिहार के इस लाल को मिलेगा पुलिस गैलेंट्री पदक

गणतंत्र दिवस के मौके पर दिए जाने वाले पुलिस गैलेंट्री अवार्ड की घोषणा हो गई। विशिष्ट और उल्लेखनीय कार्य करनेवाले केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल 47 बटालियन कोईलवर के सूबेदार मेजर नीरज कुमार सिंह का चयन सरकार ने पुलिस गैलेंट्री अवार्ड के लिए किया है। वीरता का यह पुरस्कार उनके अदम्य साहस व देशद्रोहियों को मौके पर ढेर कर पुलिस के जवानों की जान बचाने के लिए प्रदान किया गया है। बिहार के लिए खास यह है कि राज्य का यह इकलौता सीआरपीएफ जांबाज़ है जिसे गैलेंट्री पदक से नवाजा गया है।

असम के नगांव जिले में सीआरपीएफ के 34 बटालियन में बतौर निरीक्षक तैनाती के दौरान 20 मार्च 2015 को मुस्लिम यूनाइटेड लिबरेशन टाइगर ऑफ़ असम (मालटा) के साथ हुई मुठभेड़ में अपने जवानों की रक्षा करते आतंकवादियों को मार गिरा नीरज ने बिहार व अपने बल का मान बढ़ाया था। इस्टर्न कमांड काउंटर इंटेलिजेंस यूनिट की विशिष्ट सूचना के आधार पर सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर नीरज कुमार सिंह के नेतृत्व में केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल, नगांव जिला पुलिस बल व आर्मी इंटेलिजेंस के जवानों के संयुक्त अभियान ने नगांव जिले के सदर थाना अंतर्गत पीटा पारा नामक स्थान में मुस्लिम यूनाइटेड लिबरेशन टाइगर ऑफ़ असम (मालटा) के बीच ऑपरेशन को अंजाम दिया था। 20 मार्च को हुई इस मुठभेड़ में नगांव जिले के एक पुलिस उपनिरीक्षक के पैर में गोली लगी थी।

इधर घटना स्थल पर उपस्थित आर्मी इंटेलिजेंस के जवानों को बचाते व जवाबी कार्रवाई करते हुए सीआरपीएफ के निरीक्षक नीरज ने मौके को संभाला और मालटा के दो आतंकियों पर अपने सर्विस रिवाल्वर से मुजीबुर्रहमान नामक कैडर की मौका-ए-वारदात पर मौत की नींद सुला दी तो वहीँ एक दूसरे कैडर कासिम अली के कंधे मैं गोली लगी। इस दौरान पुलिस ने भारी मात्रा में गोला-बारूद व असलहों की बरामदगी की। घटना के दौरान नीरज ने अदम्य साहस का परिचय देते हुए जान की परवाह किए बिना माल्टा कैडर के नापाक मंसूबों को ध्वस्त किया। इस वीरता भरे कार्यों के कारण ही बिहार के पटना जिले के बाढ़ थाना क्षेत्र के बिचली मसाढ़ी गांव निवासी राम कुमार सिंह के बेटे नीरज को इस गणतंत्र दिवस पर पुलिस पदक से सम्मानित किया जायेगा। इधर गणतंत्र दिवस के मौके पर गैलेंट्री अवार्ड से नवाजे जाने को लेकर कोईलवर सीआरपीएफ़ बटालियन के साथ-साथ नीरज के गाँव में भी ख़ुशी का माहौल है।

पढ़े :   ये बिहारी बना यूपी सीएम योगी का सचिव, जानिए

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!