गेट रिजल्ट में बिहार का लाल देशभर में बना टॉपर

ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (गेट)-2017 का रिजल्ट घोषित कर दिया गया है। इसमें बिहार के सैकड़ों छात्रों का रिजल्ट बेहतर हुआ है। राजधानी पटना के छात्र शिवम सिंह ने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग स्ट्रीम में टॉप किया है। इस परीक्षा में पांच से सात लाख छात्र सभी ट्रेडों को मिलाकर शामिल होते हैं।

पटना के राजीव नगर के रहने वाले छात्र शिवम को 100 मार्क्स की परीक्षा में 81.25 अंक प्राप्त हुए हैं। इस परीक्षा में देशभर से इलेक्ट्रिकल स्ट्रीम से एक लाख से अधिक परीक्षार्थी शामिल हुए थे। इसमें पहला स्थान शिवम को प्राप्त हुआ। शिवम एनआईटी रायपुर का इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग का छात्र रहा है। रैंक के आधार पर देखा जाए तो शिवम को पीएसयू मिल जाएगा। वैसे एनटीपीसी सहित कई बड़े संस्थानों से कॉल आने की संभावना है।

शिवम ने बताया कि दिल्ली में रहकर तैयारी की थी। बस बेहतर संस्थान से कॉल का इंतजार है। मेरी सफलता में पापा राणा अजय कुमार सिंह व मां रेणु सिंह का बड़ा योगदान है। पापा सिविल इंजीनियर हैं व मां घरेलू महिला है। शिवम ने बताया कि एलएनटी में प्लेसमेंट हुआ था। लेकिन नौकरी नहीं कर तैयारी में लगा रहा। हर दिन ऑनलान टेस्ट सीरीज में शामिल होता था। इसके बाद ही रिजल्ट हुआ है। कई और छात्रों का रिजल्ट बेहतरकई और छात्रों का भी बेहतर रिजल्ट हुआ है।

इसमें श्रीकांत सिंह को इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में 73वां रैंक प्राप्त हुआ है। कंप्यूटर साइंस में अब्दुल हमीद को 77वीं, सिविल ब्रांच में अमन को 84वां इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कॉम्युनिकेशन में दीपमाला को 92वां रैंक हासिल हुआ है। विशेषज्ञों की माने तो 200 से 300 रैंक वाले छात्रों को बेहतर संस्थान मिलने की उम्मीद है। आईआईटी रुड़की ने फरवरी में कराई थी परीक्षाइस बार आईआईटी रुड़की को परीक्षा संचालित कराने की जिम्मेवारी दी गई थी। यह परीक्षा फरवरी में हुई थी।

पढ़े :   अब महंगाई में नहीं होगी जेब ढीली: 15 रुपए में यहां मिलेगा भरपेट खाना, ...जानिए

इस परीक्षा के माध्यम से इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, आर्किटेक्चर के मास्टर्स डिग्री प्रोग्राम के साथ विज्ञान के विभिन्न ब्रांच में डॉक्टर प्रोग्राम के लिए राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा होती है। इसके लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वार स्कॉलरशिप या फेलोशिप प्रदान की जाती है। गेट का आयोजन इसी के लिए किया जाता है। इस प्रोग्राम के लिए इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, आर्किटेक्चर में बैचलर डिग्री रखने वाले या साइंस, सांख्यिकी और कम्प्यूटर आवेदन मास्टर्स डिग्रीधारी या अंतिम वर्ष के छात्र करते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!