बिहार की शालिनी बनेंगी राष्ट्रपति की मेहमान, …जानिए

बिहार की राजधानी पटना की शालिनी कुमारी अगले 15 दिन तक राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की मेहमान रहेंगी। दीघा घाट निवासी शालिनी ने स्टेयर्स वॉकर बनाया है जिससे वरिष्ठ नागरिकों को सीढ़ियां चढ़ने-उतरने में काफी सहूलियत होती है।

कमाल का वॉकर बनाया
शालिनी के दादा घर की छत पर बागवानी करते थे, लेकिन एक दुर्घटना में पैर खराब होने की वजह से चल-फिर नहीं सकते थे। हादसे के बाद उन्हें वॉकर की मदद से चलने को मजबूर होना पड़ा। वे सीढ़ियां नहीं चढ़ पाते थे। बागवानी छूट गई। शालिनी को यह अच्छा नहीं लगा। शालिनी से उनकी परेशानी देखी नहीं गई और यहीं से उसके दिमाग में स्टेयर्स वॉकर का ख्याल आया। शालिनी ने वॉकर की डिजाइन में बदलाव कर ऐसा वॉकर तैयार किया और उसका सुझाव नेशनल इनोवेशन फाउंडेशन को भेजा। उन्होंने उसे विकसित करने की जिम्मेदारी एक कंपनी को सौंप दी। आज जो मॉडिफाइड वॉकर तैयार हुआ है, उसमें स्प्रिंग लोडेड सेल्फ- लॉकिंग फ्रंट लेग्स, हॉर्न एवं लाइट लगे हैं। लोगों को इससे सहूलियत हुई है। जिसकी मदद उसके दादा आसानी से सीढ़ी चढ़ जाते थे।

शालिनी कहती हैं, ‘मैं नौवीं में थी, जब यह आइडिया आया था कि वॉकर के सामने वाले लेग्स को एडजस्ट करने से सीढ़ियां चढ़ना मुश्किल नहीं होगा। फिलहाल मेडिकल की तैयारी कर रहीं शालिनी का मानना है कि एक औसत बच्चा भी इनोवेशन कर सकता है, जरूरत सिर्फ उसे मोटिवेट करने की है।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 2013 में नवोन्मेषकों, लेखकों, कलाकारों के लिए राष्ट्रपति भवन के दरवाजे खोले थे। इसका उद्देश्य उनकी रचनात्मक संभावना को प्रोत्साहित करना और उनकी गतिविधियों में नागरिकों की व्यापक भागीदारी सुनिश्चित करना है। तब से हर वर्ष नई खोज कर रहे नवोन्मेषक, लेखक व कलाकार यहां ठहरते रहे हैं। शालिनी के साथ 14 अन्य लोग 18 मार्च तक राष्ट्रपति के मेहमान होंगे।

पढ़े :   अब मास्को में सम्मानित होंगे सुपर 30 के आनंद, ...जानिए

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!