जलेबी बनाते दिखे लालू के लाल ‘कन्हैया’, तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव हमेशा चर्चा में रहते हैं। तेज प्रताप कभी कन्हैया बन गौशाला में बांसुरी बजाने लगते हैं, तो कभी विकेट की जगह कुर्सी रखकर चौके-छक्के मारने लगते हैं।

बसंत पंचमी के मौके पर बुधवार को उनका एक अलग ही अंदाज दिखा। सरस्वती पूजा के दौरान वे इस बार जलेबी बनाते दिखे। सोशल मीडिया पर तेजप्रताप यादव ये फोटो तेजी से वायरल हो रही है।

कन्हैया बनकर बांसुरी बजाने लगे
राजद सुप्रीमो लालू प्रासद के बेटे व बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने नए साल का स्वागत अपने अंदाज में किया। इस अवसर पर वे कृष्ण के अवतार के रूप में जनर आए। तेजप्रताप न केवल कृष्ण की तरह सजे, बल्कि उनकी तरह बांसुरी भी बजाई।

नए साल के अवसर पर तेजप्रताप यादव ने कृष्ण का रूप धारण किया। उनकी तरह मोरपंख लगी पगड़ी भी लगाई। यह पगड़ी उन्हें वृंदावन से तोहफे में मिली है। विदित हो कि तेजप्रताप हाल ही में वृंदावन गए थे। पूरी तरह सज-धजकर तेजप्रताप ने गायों के बीच में बांसुरी बजाई।

नए साल के अवसर पर तेजप्रताप का यह रूप अनोखा दिखा। अंदाज भी ‘जरा हटके’ था। विदित हो कि इसके पहले भी वे कई अवसरों पर पूजा करने मंदिरों में पहुंचते रहे हैं।

कुर्सी बचाने के लिए क्रिकेट खेेला
बिहार के स्वास्थ्य मंत्री और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव हमेशा चर्चा में बने रहते हैं। तेजप्रताप कभी कन्हैया बन जाते हैं तो कभी रिक्शा चलाने लगते हैं। इस बार तेजप्रताप के चर्चा में बने रहने का कारण है क्रिकेट।

पढ़े :   पहल: ट्रेन की बोगियों में पढ़ते हैं इस स्कूल के बच्चे, ...जानिए

तेजप्रताप यादव अपनी गतिविधियों और अपने बयानों के कारण लोगों के बीच चर्चित रहते हैं। वे आवास पर क्रिकेट खेल रहे थे। लेकिन उनके क्रिकेट खेलने का जो तरीका था, वो अनोखा था। दरअसल, तेजप्रताप जब क्रिकेट खेल रहे थे, विकेट की जगह उन्होंने अपनी कुर्सी लगा दी और ‘कुर्सी’ को बचाने के लिए चौके-छक्के उड़ाने लगे। इस दौरान उन्होंने बहुत देर तक क्रिकेट खेला।

विधानसभा की कैंटीन में गाजा बनाया
कभी तो वो विधानसभा के कैंटीन में गाजा भी छानने लगे थे और यह तस्वीर खूब वायरल हुई थी। एेसे ही अचानक वो भगवान की शरण में वृन्दावन पहुंचे और वहां राधे राधे करते रहे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!