आतंकियोंं को मुंहतोड़ जवाब दे शहीद हुआ बिहार का लाल

जम्मू कश्मीर के पूंछ में बीते चार फरवरी को पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी में घायल इंडियन आर्मी के जवान किशोर कुमार मुन्ना रविवार को शहीद हो गये। उनकी शहादत की खबर मिलते ही वीर शहीद किशोर कुमार मुन्ना (25) के बिहार के खगडि़या जिले के चौथम प्रखंड के ब्रह्मा गांव में मातम छा गया है। देश के नाम जिंदगी कुर्बान करने वाले बिहार के लाल का शव सोमवार को उनके गांव पहुंचेगा। जहां सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा।

पाकिस्तानी सेना को दिया मुंहतोड़ जवाब
चार फरवरी की अहले सुबह पाकिस्तानी सेना ने जम्मू कश्मीर के पूंछ सेक्टर में गोलीबारी शुरू कर दी थी। इसमें मौके पर मौजूद आर्मी जवान किशोर कुमार मुन्ना ने पाकिस्तानी सेना को मुंह तोड़ जवाब देते हुए जवाबी फायरिंग की। घंटों तक चली फायरिंग के दौरान किशोर को गोली लग गयी। गोली लगने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल किशोर को इलाज के लिए कश्मीर के आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान रविवार की सुबह घायल किशोर शहीद हो गये।

इधर, मुन्ना के पिता नागेश्वर यादव को इस सूचना पर सहसा विश्वास नहीं हुआ। मुन्ना के घर में मातमी सन्नाटा पसर गया। शहीद की मां अपनी सुध-बुध खो बैठी है। जिस बेटे की शादी का सपना संजोए हुई थी, अब उसका शव आ रहा है।

शहीद के पिता नागेश्वर यादव को अपने बेटे की शहादत पर गर्व है। उन्‍होंने बताया कि 2013 में किशोर कुमार ‘मुन्ना’ का आर्मी में चयन हुआ था। लगभग आठ माह पूर्व ही मुन्ना की पोस्टिंग कश्मीर के पुंछ सेक्टर में हुई थी।

पढ़े :   महिलाओं को बिहार सरकार का तोहफा, पीडीएस दुकानों की 35 फीसदी सीटें हुईं आरक्षित

मुन्ना दो भाइयों में छोटे थे। बड़े भाई अविनाश होमियोपैथ चिकित्सक हैं। इनकी एक बहन है, जिनकी शादी हो चुकी है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!