फिट हो अधिकारी व जवान रहें तनावमुक्त इसलिये बिहार के इस एसपी ने अपने खर्चे पर खोला जिम

फिटनेस बिहार पुलिस के मुलाजिमों के लिये शुरू से ही बड़ी समस्या है ये हम नहीं बल्कि सरकार के ही अफसर भी कहते हैं। शायद यही कारण है कि बड़े तोंद वाले पुलिस जवान आपको बिहार में हर जगह ड्यूटी पर दिख जायेंगे।

फिटनेस की इस समस्या से बिहार का सारण जिला पुलिस बल भी अछूता नहीं है लेकिन जवानों को फिट रखने के लिये खुद एसपी ने ही इस बार बीड़ा उठाया है। जवान और अधिकारी फिट रहें इसके लिए पुलिस लाइन में फिटनेस क्लब खोला है। सारण में पुलिस के लिए जिम की व्यवस्था कर एसपी ने एक नई पहल की शुरूआत की है। सूत्र बताते है की सारण पुलिस के आधे से अधिक जवान अपने सेहत को लेकर परेशान हैं।

अनियमित ड्यूटी और काम के तनाव ने इनकी जीवन शैली में बड़ा बदलाव किया है जिसके कारण इनके सेहत में गिरावट आ रही है। इस समस्या को सारण के एसपी पंकज कुमार ने समझा और छपरा के पुलिस लाइन में एक जिम का उद्घाटन किया। जिम खोलने में आये खर्च का अधिकांश हिस्सा भी एसपी ने अपनी जेब से ही किया ताकि किसी भी हाल में फिटनेस की समस्या जवानों के लिये समस्या न बने।

पुलिस कप्तान के इस कार्य की डीआईजी ने की सराहना

सारण रेंज के डीआईजी अजीत कुमार राय ने छपरा पुलिस लाइन स्थित अत्याधुुनिक जिम और मनोरंजन कक्ष का उद्घाटन किया। उन्होंने पत्रकारो को बताया कि पुलिस पदाधिकारी व जवानों पर जवाबदेही बढ़ गयी है। इस लिये तनाव मुक्त रहना बहुत ही स्वास्थ्य के लिये जरूरी है। जिम इसमें सबसे कारगर साबित होगा। उन्होंने एसपी पंकज कुमार राज के इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि जवानों के लिये जिम और मनोरंजन कक्ष बहुत ही उपयोगी साबित होगा। जिम में डीआईजी ने कुछ देर के लिए एक्सरसाइज भी की। फिर जिम के बाहर लगे सहयोग शुल्क बॉक्स में सौ रुपये का एक नोट डाल दिया। एसपी ने बताया कि उनकी कोशिश हमेशा रहती है कि जवानों और पुलिस पदाधिकारियों की समस्याओं पर ध्यान दें। जिम खुलने से जवान अब पुलिस लाइन में ही अपने साथियों के साथ व्यायाम कर सकेंगे। सहायक पुलिस अधीक्षक मनीष, अपर पुलिस अधीक्षक सत्य नारायण कुमार के अलावा इस अवसर पर सभी डीएसपी, पुलिस इंस्पेक्टर और थानाध्यक्ष शामिल थे। वहीं एसपी के द्वारा पुलिस लाइन में जिम खोलवाने पर विहार पुलिस मेंस एसोशिएसन के सारण जिला पदाधिकारियों ने भी आभार जताया।

पढ़े :   वृद्ध के हाथों से 15 हजार लेकर भागा 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!