मोबाइल और कंप्यूटर के इस्तेमाल में बिहार के बच्चे देश के विकसित राज्यों से भी हैं आगे

जी हाँ शिक्षा के पायदान पर निरंतर आगे बढ़ रहे बिहार के लिए यह अच्छी खबर है। मोबाइल, इंटरनेट और कंप्यूटर का इस्तेमाल के मामले में बिहार के बच्चे देश के विकसित राज्यों से भी आगे हैं। ‘असर’ की वार्षिक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। रिपोर्ट मंगलवार को दिल्ली में जारी किया गया।

देश भर में शिक्षा की स्थिति पर ‘असर’ की रिपोर्ट को अहम माना जाता है। इस बार 24 राज्यों के 26 जिलों के 23868 घरों में जाकर 14 से 18 वर्ष के 28323 युवाओं के बीच यह सर्वे हुआ। इस सर्वे में बिहार का एकमात्र जिला मुजफ्फरपुर शामिल था। वहां 60 गांवों के 962 घरों के 1158 युवाओं के बीच शिक्षा की स्थिति पर सर्वेक्षण किया गया।

तकनीक के इस्तेमाल में हैं आगे
करीब डेढ़ सौ पन्नों की रिपोर्ट में चौंकाने वाली बात यह है कि 14 से 18 वर्ष उम्र के मुजफ्फरपुर जिले के 80.3 प्रतिशत बच्चों के पास अपना बैंक एकाउंट है। इनमें 17 प्रतिशत बच्चे एटीएम और 5.4 प्रतिशत बच्चे नेट बैंकिंग का भी इस्तेमाल कर रहे हैं। 84.2 प्रतिशत बच्चे का मोबाइल का इस्तेमाल कर रहे हैं। 26.3 प्रतिशत इंटरनेट और 20.4 प्रतिशत कंप्यूटर का इस्तेमाल भी कर रहे हैं।

बिहार के इस जिले के 87.5 प्रतिशत बारहवीं तक के लड़के-लड़कियां किसी न किसी स्कूल में औपचारिक शिक्षा ले रहे हैं। 2.2 प्रतिशत का अंडर ग्रेजुएट में नामांकन हुआ है। सिर्फ 10.5 प्रतिशत ही इस आयु वर्ग के बच्चे ऐसे हैं, जो नामांकन से वंचित हैं। इस रिपोर्ट में बिहार में शिक्षा की स्थिति कई विकसित राज्यों से भी बेहतर है। 2005 से ही ‘असर’ शिक्षा पर सर्वे करते आ रहा है।

पढ़े :   बिहार में कई IAS अफसरों का तबादला, ...जानिए

Leave a Reply