प्रकाशोत्सव पर श्रद्धालुओं के लिए चलेंगी 227 बसें, अंतरराज्यीय बस टर्मिनल का शिलान्यास

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अंतरराज्यीय बस टर्मिनल का शनिवार को शिलान्यास किया। साथ ही 227 बसों की सौगात दी। सीएम संवाद कक्ष में मुख्यमंत्री ने एक कार्यक्रम में इन बसों के परिचालन का शुभारंभ किया।

मुख्यमंत्री ने सज-धजकर तैयार इन बसों को रवाना किया। कहा कि प्रकाशोत्सव पर ये बसें श्रद्धालुओं के लिए नि: शुल्क होंगी। ये उन रूटों पर चलायी जाएंगी जहां श्रद्धालु अधिक संख्या में रहेंगे।

नीतीश कुमार ने कहा कि प्रकाशोत्सव को लेकर सारी तैयारी पूरी हो गई है। पूरा प्रशासन इसे सफल बनाने में लगा हुआ है। श्रद्धालु अच्छी यादें लेकर जाएं, इसके लिए हम सबको मिलकर काम करना होगा। ये बसें आगे भी चलायी जाएंगी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने बिहार की राजधानी पटना में दो साल पुरानी राज्य की पहली इंटर स्टेट बस टर्मिनल बनाने का काम जनवरी से शुरू हो जायेगा। पटना गया रोड स्थित पहाड़ी में 331 करोड़ की लागत से बनने वाले बस टर्मिनल का शिलान्यास किया।

मिलेगी वाई-फाई सुविधा
इसमें मुख्य भवन 53821 वर्ग मीटर में बनेगा. वाइ-फाइ, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लान के साथ 50 शहरों के 76 बसों के ठहरने की व्यवस्था के साथ शाॅपिंग मॉल की भी सुविधा रहेगी। क्षेत्र में कुल पांच भवनों का निर्माण किया जाना है। इसमें आगमन भवन (G+5), प्रस्थान भवन (G+5), व्यावसायिक भवन (G+8), लिंक ब्लॉक (G+6) व वर्कशॉप (G+2) बनेगा। 63 हजार मीटर में हाेगा। इस योजना को 24 माह यानी दिसंबर 2018 तक शापूरजी पाॅलनजी एंड कंपनी प्राइवेट लिमिटेड पूरा करेगी।

आठ बस स्टैंड और 12 घाटों का उद्घाटन
इस दौरान बुडको की ओर से बनाये गये बांका बस स्टैंड (लागत 1.94 करोड़), मखदुमपुर बस स्टैंड (लागत 1.99करोड़), बोध गया बस स्टैंड (लागत 1.97 करोड़), सुपौल बस स्टैंड (लागत 3.98 करोड़), कटिहार बस स्टैंड (लागत 4.99 करोड़), नासरीगंज बस स्टैंड (लागत 2 करोड़), भभुआ बस स्टैंड (लागत 3.95 करोड़) और बेलसंड बस स्टैंड (लागत 1.99 करोड़) का उद्घाटन किया।

पढ़े :   बक्सर हमले के बाद मुख्यमंत्री नीतीश को मिली Z+ सुरक्षा

साथ ही साढ़े नौ करोड़ की लागत से एसपी वर्मा रोड से मंदिरी तक बने नाले का शुभारंभ किया। वहीं, रिवर फ्रंट डेवलपमेंट के तहत गंगा तट पर 98 करोड़ की लागत से बने 12 घाट मसलन अंटा घाट, बीएन कॉलेज घाट, मिश्री घाट, बहरवा घाट, रानी घाट, चौधरी टोला घाट, पथरी घाट, आलमगंज घाट, हनुमान घाट, राज घाट और लहरवा घाट का उद्घाटन किया।

Leave a Reply