गणतंत्र दिवस पर बिहार के 51 पुलिसकर्मियों की सेवा को मिलेगा सम्मान, जानिए

गणतंत्र दिवस के मौके पर राज्य की आंतरिक सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले बिहार पुलिस के कुल 51 पुलिस अधिकारियों व कर्मियों को पुलिस पदक से अलंकृत किया जाएगा। पुलिस पदक से सम्मानित होने वालों में कुल 13 अधिकारी भारतीय पुलिस सेवा के तथा एक बिहार पुलिस सेवा के हैं।

आंतरिक सुरक्षा सेवा के पुलिस पदक से अलंकृत होने वाले पुलिस अधिकारी व कर्मी

आइपीएस श्रेणी
सौरभ कुमार (डीआइजी मगध रेंज, गया)
मो. रहमान (डीआइजी, शाहाबाद रेंज, डिहरी)
विकास वैभव (एआइजी, प्रशिक्षण)
पंकज सिन्हा (एसपी, नवगछिया)
हरप्रीत कौर (एसपी, कैमूर)
विकास बर्मन (एसपी, नवादा)
रंजीत कुमार मिश्रा (एसपी, बेगूसराय)
हरि प्रसाथ एस (एसपी, सीतामढी)
विवेक कुमार (एसएसपी, मुजफ्फरपुर)
मनु महाराज (एसएसपी, पटना)
उपेंद्र कुमार शर्मा (एसपी, बक्सर)
चंदन कुमार कुशवाहा (सिटी एसपी, पटना)
मानवजीत सिंह ढिल्लो (एसपी, रोहतास)

डीएसपी श्रेणी
ललित मोहन शर्मा (एएसपी, एसटीएफ)
पुलिस अवर निरीक्षक श्रेणी
राजेंद्र पासवान (मुजफ्फरपुर पुलिस बल)
रामेश्वर सिंह (मुजफ्फरपुर पुलिस बल)

एएसआइ श्रेणी
दिनेश्वर उपाध्याय, देवेंद्र प्रसाद, नमो नारायण राय, राकेश कुमार रंजन (सभी मुजफ्फरपुर जिला पुलिस बल)
राम सागर प्रसाद, छोटे लाल पासवान व राम उदार यादव (सभी अरवल पुलिस बल)

हवलदार श्रेणी
कप्तान सिंह यादव, कृष्ण कुमार सिंह, वीर सिंह तियु (सभी पटना पुलिस बल)
अब्दुल मन्नान खां, जंग बाहदुर राम (दोनों अरवल पुलिस बल)
कृष्णकांत कुमार (पटना पुलिस बल)
रतिलाल भगत (औरंगाबाद पुलिस बल)

सिपाही श्रेणी
किरण टोपो, सतीश कुमार सिंह, अनिल कुमार सिंह, अनिल कुमार उपाध्याय, योगेश्वर यादव, सुरेश नारायण सिंह, अनिल सिंह, श्यामनंदन प्रसाद, राजकुमार सिंह (सभी औरंगाबाद पुलिस बल)

राजू कुमार सिंह, चंद्रमा कुमार यादव, विजय कुमार शर्मा, हरखनाथ सिंह, रामानंद सिंह, रामानुज शर्मा, विद्यानंद मिश्रा, नागेंद्र राय, अरविंद कुमार सिंह, बृजकिशोर तिवारी व दशरथ साह (सभी मुजफ्फरपुर पुलिस बल)

पढ़े :   बिहार बोर्ड: इंटर कंपार्टमेंटल का रिजल्ट जारी, 71.36% छात्र पास

उग्रवाद प्रभावित इलाकों में तैनाती के लिए मिलता है सम्मान
पुलिस (आंतरिक सुरक्षा सेवा) पदक उन्हीं पुलिस अफसरों या जवानों को दिया जाता है जो उग्रवाद प्रभावित जिलों में कम से कम दो वर्ष तक तैनात रहे हों। इस दौरान कठिन परिश्रम और विशिष्ट कार्यों के लिए चुनिंदा अधिकारियों और जवानों को सम्मानित किया जाता है। पदक के लिए पुलिसकर्मियों का चयन राज्यस्तर पर ही होता है, लेकिन गृह मंत्रालय की सहमति के बाद ही पदक दिए जाते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!