खुशखबरी: बिहार बना देश का सबसे युवा उद्यम वाला राज्य, …जानिए

देश में सबसे ज्यादा युवा उद्यम वाला राज्य बिहार है। जी हाँ नीति आयोग द्वारा ईज ऑफ डूईंग बिजनेस पर जारी रिपोर्ट में यह सामने आया है। इसमें कहा गया है कि बिहार में अनुपातिक तौर पर निर्माण गतिविधि वाली दस साल के कम उम्र वाली इकाईयां 80% हैं। वहीँ दूसरे स्थान पर उत्तराखंड, तीसरे पर पंजाब और चौथे पर सिक्किम है।

नीति आयोग द्वारा 2016 में किए गए सर्वेक्षण के आधार पर तैयार की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि देश के 29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 3276 निर्माण उद्यमों में 799 युवा इकाईयां हैं। अनुपात के आधार पर सर्वाधिक युवा इकाईयां रखने वाले बिहार के बाद उत्तराखंड में 73% उद्यम दस साल की उम्र से कम के हैं।

हालांकि संख्या के आधार पर महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना आगे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक कुल 32% युवा उद्यम छोटे हैं और 43% उनसे बड़े वर्ग के हैं। इनमें से 75% उद्यम 50 से कम कर्मचारियों वाले हैं जबकि निर्माण गतिविधि वाले 67% पुरानी इकाईयां छोटी हैं।

आयोग के सर्वेक्षण के दौरान 3500 से ज्यादा निर्माण क्षेत्र के उद्यमों और 2014 से स्थापित 141 स्टार्टअप का साक्षात्कार किया गया। हरेक साक्षात्कार 5 विशेषज्ञों द्वारा किया गया। रिपोर्ट के मुताबिक राज्यों को रैंक देने की बजाय उद्यमों के साक्षात्कार की वजह व्यवसाय के माहौल के विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी हासिल करना था।

इसमें यह देखने में आया कि ज्यादातर उद्यम दो साल की अवधि में कानूनी मामले सुलझा लेते हैं। बिजली की समस्या के मद्देनजर रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में औसतन एक माह की अवधि में उद्यमों को 46 घंटे की कटौती या कमी का सामना करना पड़ता है।

पढ़े :   बिहार के इस 15 वर्षीय युवा साइंटिस्ट ने सबको चौंकाया, वैज्ञानिकों ने दी शाबाशी

रिपोर्ट में उद्यम स्थापित करने का औसत समय 118 दिन बताया गया है। हालांकि महाराष्ट्र और दिल्ली में औसत समय 26 दिन का है। गौरतलब है कि आयोग ने यह साफ किया है कि 63% स्टार्टअप महाराष्ट्र, तेलंगाना और गुजरात में स्थापित हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!