बड़ा फैसला: ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने वाला आठवां राज्य बना बिहार, …जानिए

बिहार सरकार ने तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम को बल प्रदान करते हुए बिहार में ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगा दिया है। सोमवार को इस सिलसिले में अधिसूचना जारी कर दी गई। ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने वाला बिहार देश का आठवां राज्य है। इससे पहले पंजाब, महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, मिजोरम, जम्मू कश्मीर एवं उत्तर प्रदेश में पाबंदी लग चुकी है।

बताते चलें कि स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन की अध्यक्षता में पिछले दिनों राज्य तंबाकू नियंत्रण समन्वय समिति की बैठक में ही ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया गया था। ई-सिगरेट के साथ-साथ वैसे निकोटीन युक्त उत्पाद (जो ड्रग कंट्रोलर जनरल आफ इंडिया के द्वारा अनुमोदित नहीं हैं) को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है।

राज्य औषधि नियंत्रक रवींद्र कुमार सिन्हा ने सभी औषधि निरीक्षकों को आदेश दिया है कि राज्य में ई-सिगरेट की खरीद-बिक्री (आनलाइन सहित), विज्ञापन, निर्माण, भंडारण, वितरण आदि पर पूर्ण रोक लगाते हुए इसका उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाएं।

तंबाकू नियंत्रण के क्षेत्र में सक्रिय संस्था सोशियो इकोनोमिक एंड एजुकेशनल डेवलपमेंट सोसाइटी (सीड्स) के निदेशक दीपक मिश्रा ने बताया कि उल्लंघन करने वालों को तीन साल तक की सजा एवं पांज हजार रुपये तक जुर्माना हो सकता है।

जानिए, क्या है ई-सिगरेट
ई-सिगरेट या ईलेक्ट्रानिक सिगरेट ऐसा यंत्र है जो देखने में साधारण सिगरेट जैसा लगता है। इसमें एक बैटरी और एक कारट्रिज होती है। कारट्रिज में निकोटीन युक्त तरल पदार्थ होता है जो बैट्री की सहायता से गर्म होकर निकोटीन युक्त भाप देता है। उसे सिगरेट के धुएं की तरह लोग पीते हैं।

Image Source- https://ecigarettereviewed.com/ | https://www.flickr.com/photos/[email protected]/25469443942

पढ़े :   CBSE ने 12वीं बोर्ड परीक्षा की तारीखों में किया यह नया बदलाव, जानिए यहां

1 टिप्पणी

  1. waahh apna Bihar v gajaab h agar tambaki pr rook lagana to usse bnd kre na to ye E cigarette bnd kr k kya hoga or jaha tk baat rahi e smoking ki to ye smoking chudrwane me madad krta h or general cigarette se kaam hani karak hota h

Leave a Reply