सोनिया-मनमोहन समेत 17 दलों के नेताओं की मौजूदगी में बिहार की बेटी मीरा कुमार ने भरा नामांकन

संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की उम्मीदवार मीरा कुमार बुधवार को राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन किया। इस मौके पर सोनिया गांधी, शरद पवार, मनमोहन सिंह, मल्लिकार्जुन खडगे, सीताराम येचुरी समेत विपक्ष के कई नेता मौजूद थे।

बिहार की बेटी है मीरा…
मीरा कुमार बिहार की बेटी है। मीरा कुमार का जन्म 31 मार्च 1945 को बिहार के आरा के चंदवा में हुआ था। मीरा कुमार के पिता स्व जगजीवन राम देश के पहले दलित उप प्रधानमंत्री थे। लेकिन इसके बाद भी मीरा कुमार ने अपना कैरियर राजनीति में तलाशने के बदले सिविल सर्विस में तलाशा। ये उनकी लगन और मेहनत का ही परिणाम था कि वो देश की सबसे ज्यादा प्रतिष्ठित परीक्षा सिविल सेवा में 1973 में अपना स्थान बनाया।

जन्म के तीन दशक बाद राजनीति में किया प्रवेश…
पूर्व प्रधानमंत्री के आग्रह पर 1985 में मीरा कुमार ने अपना राजनीतिक कैरियर शुरू किया। वो 1985 में सबसे पहले यूपी के बिजनौर से सांसद बनी। इसके बाद वो 1996 और 1998 में दिल्ली के करोलबाग से चुनाव जीता। इसके बाद वो 2004 और 2009 में बिहार के सासाराम से लोक सभा चुनाव जीती।

पहली महिला स्पीकर…
2009 में मीरा कुमार देश की पहली महिला लोक सभा स्पीकर बनी। जीएमसी बालयोगी के बाद ये देश की दूसरी दलित हैं जो लोक सभा स्पीकर बनी।

बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग 17 जुलाई को होगी। काउंटिंग 20 जुलाई को कराई जाएगी। प्रणब मुखर्जी का टेन्योर 24 जुलाई को खत्म होगा। मीरा कुमार के खिलाफ एनडीए ने बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद को अपना दावेदार बनाया है।

पढ़े :   बिहार की बेटी मीरा कुमार होंगी विपक्ष की राष्ट्रपति उम्मीदवार, ...जानिए

क्या कहते हैं आंकड़े…
बहुमत के लिए वोटो की संख्या – 5,49,452
कांग्रेस, तृणमूल और अन्य दलों के बाद मीरा कुमार को मिल सकते हैं – 3,78,458 वोट
एनडीए, जेडीयू और अन्य दलों के समर्थन के बाद कोविंद को मिल सकते हैं – 6,82,722 वोट

Leave a Reply

error: Content is protected !!