बिहार की बेटी रौनिका बनी नासा की वैज्ञानिक, …जानिए

बिहार में प्रतिभावानों की कमी नही है, बिहार के युवा हर जगह अपना परचम अपने कार्यो की बदौलत लहराते रहे हैं। आज हम बात कर रहे है बिहार के भोजपुर जिले के आरा शहर में रहने वाली रौनिका आनंद ने नासा की साइंटिस्ट बनकर पूरे राज्य का मान बढ़ाया। रौनिका आनंद ने पहली बार में ही एशियन रीजनल स्पेस सेटलमेंट डिजाइन कंपीटीशन (एआरएसडीसी) में सफलता हासिल की।

2015 में आयोजित इस कंपीटीशन में रौनिका एशिया में पहले स्थान पर आयी थीं। इसके बाद नासा ने रौनिका को मैसेज कर चयन के बारे में जानकारी दी और उसे काम करने के लिए बुलाया।

रौनिका आरा शहर के महाराणा प्रताप नगर के शिक्षक सतीश कुमार की बेटी हैं। डीएवी धनुपरा से शिक्षा ग्रहण करने के बाद रौनिका ने उच्च शिक्षा के लिए दिल्ली के डीपीएस वसंत कुंज में प्रवेश लिया और वैज्ञानिक बनने की तैयारी करने लगी।

रौनिका की तीन बहनें हैं। सबसे बड़ी जीरसा आनंद, प्रतिभा आनंद और सबसे छोटी रौनिका आनंद हैं।

मां असनी गर्ल्स हाईस्कूल की प्राचार्या हैं, तो पिता क्षत्रीय स्कूल में भौतिकी के शिक्षक हैं। रौनिका के शिक्षक एसके तिवारी ने बताया कि रौनिका सभी बच्चों में खास थी। वह स्कूल में हमेशा टॉप आती थी।

रौनिका ने उनसे वैज्ञानिक बनने की इच्छा बतायी थी। इसके बाद उसे पढ़ने के लिए दिल्ली भेज दिया गया। शिक्षक एसके तिवारी ने बताया कि रौनिका ने स्पेस सेटलमेंट डिजाइन पर कार्य करना क्लास 9 से ही शुरू कर दिया था। इस साल पांच व छह अगस्त को वीआइटी, वेल्लोर में आयोजित इंडियन स्पेस कॉन्क्लेव 2017 में भी रौनिका ने पार्टिसिपेट किया था़।

पढ़े :   13 साल का ये बिहारी लड़का बना अमेरिकी कंपनी का सीईओ

Leave a Reply

error: Content is protected !!