डिप्‍टी सीएम से भी गरीब हैं सीएम नीतीश, किसके पास कितना-देखें पूरी लिस्ट

नए साल का पहला दिन है और बिहार में ये समय है सभी मंत्रियों के अपनी संपत्ति और देनदारियों की घोषणा करने का। और पिछले कुछ सालों से जारी चलन के अनुसार, इस साल भी सभी मंत्रियों ने अपनी अपनी संपत्ति और देनदारियों की घोषणा की है और उसे बिहार सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड भी किया है।

जारी किये गए ब्योरे के मुताबिक सीएम नीतीश कुमार से ज्यादा धनवान उनके मंत्री हैं और तो और सीएम नीतीश से ज्यादा संपत्ति उनके बेटे निशांत के पास है।

बात अगर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की करें तो, उन्‍होंने अपने पास नई फोर्ड इकोस्‍पोर्ट कार होने की भी घोषणा की है। नीतीश के पास 40566 रुपये नकद है जबकि उनकी चल संपत्ति की कुल कीमत 18,97,634 रुपये है जिसमें एक लैपटॉप, कंप्‍यूटर, एसी, ट्रेडमिल, वाशिंग मशीन, वाशिंग मशीन, माइक्रावेव अवन आदि शामिल हैं। जबकि नीतीश के बेटे के पास 94,08,322 रुपये की चल संपत्ति है जिसमें सोने के गहने, पोस्‍ट ऑफिस में बचत और जमा बॉन्‍ड शामिल हैं। नीतीश कुमार के पास 40 लाख रुपये की अचल संपत्ति है जबकि उनके बेटे के पास 1,20,18,519 रुपये की अचल संपत्ति है।

एक करोड़ 38 लाख के मालिक तेजस्वी
पटना जिले के फुलवारीशरीफ थाना के पलंगा और गोपालगंज जिले के फुलवरिया में दो बीघा 15 कट्ठा कृषि योग्य जमीन है, जिसका वर्तमान मूल्य करीब 11.75 लाख है। इसके अलावा इन दोनों स्थानों पर उनके भाई के साथ संयुक्त रूप में भी करीब 2 बीघा 8 कट्ठा कृषि योग्य जमीन है। इसमें उप-मुख्यमंत्री के हिस्से की जमीन का वर्तमान बाजार मूल्य करीब 14.40 लाख रुपये हैं। इस तरह उप-मुख्यमंत्री के पास कृषि योग्य जमीन की कुल कीमत करीब 26 लाख 15 हजार है।

पटना के दानापुर थाना क्षेत्र में सगुना और धनौर में 28.50 लाख की व्यावसायिक जमीन है। पटना के गर्दनीबाग में तीन कट्ठा जमीन पर तीन मंजिला मकान बना हुआ है, जिसका वर्तमान मूल्य 24 लाख रुपये है। गोपालगंज जिला में तीन कट्ठा 2.5 धूर जमीन में एक मंजिला मकान बना हुआ है, जिसकी वर्तमान कीमत 12.50 लाख रुपये बतायी गयी है।

तेजप्रताप के पास 15 लाख की बाइक
गोपालगंज के फुलवरिया व सिलारकेला तथा फुलवारीशरीफ (पटना) के पलंगा में 1 बीघा 16 कट्ठा कृषि योग्य जमीन है, जिसका वर्तमान मूल्य 9 लाख बताया गया है। गोपालगंज जिला के फुलवरिया और पटना के फुलवारीशरीफ में उनके छोटे भाई के साथ संयुक्त रूप से 2 बीघा 8 कट्ठा कृषि योग्य जमीन है। इसमें इनके हिस्से के जमीन की कीमत 14.40 लाख है। इस तरह स्वास्थ्य मंत्री के पास 23.40 लाख मूल्य की कृषि योग्य जमीन है।

पटना के दानापुर थाना क्षेत्र के धनौत में 12 कट्ठा 15 धुर गैर-कृषि योग्य जमीन है, जिसका वर्तमान मूल्य 28.50 लाख रुपये बताया गया है। पटना के गर्दनीबाग मुहल्ले में छोटे भाई के साथ संयुक्त रूप से तीन कट्ठा जमीन में तीन मंजिला मकान बना हुआ है, जिसमें इनके हिस्से की कीमत 24 लाख रुपये है। गोपालगंज में तीन कट्ठा ढाई धुर जमीन में एक मंजिला मकान बना हुआ है, जिसका वर्तमान मूल्य 12.50 लाख बताया गया।

नालंदा, पटना, रांची और दिल्ली में हैं ललन सिंह के कमर्शियल व आवासीय भवन
जल संसाधन मंत्री ललन सिंह 3.84 करोड़ की संपत्ति का मालिक हैं। उनका नालंदा। पटना, रांची और दिल्ली में आवासीय मकान तो है ही, नालंदा में अच्छी-खासी कृषि जमीन भी है। उनके पास 7.30 लाख की हुंडई गाड़ी है और एनपी बोर को दो बंदूके भी। बैंकों में उनके विभिन्न खातों में 1.80 करोड़ रुपये हैं, यानी ललन बाबू तीन करोड़ 84 लाख की संपत्ति के ऑनर हैं।

इस मामले में वे साधन संपन्न मत्रियों में शुुमार हैं। उनके पास 18. 50 लाख के स्वर्णाभूषण हैं। नालंदा में उनकी जो जमीन है उसकी ताजा रेट 1.80 करोड़ है। उन्होंने ढ़ाई लाख के कई बाऊंडस भी ले रखे हैं। उनका एक करोड़ का फिक्स डिपॉजिट है। उनके और उनकी पत्नी के पास चार किलो चांदी और 55 ग्राम स्वर्णाभूषण तो है ही, साथ में हीरा और नीलम के रत्न भी हैं।

मस्तान मात्र 26.78 लाख के मालिक
राज्य के उत्पाद एवं मद्य निषेध तथा निबंधन मंत्री अब्दुल जलील मस्तान के पास 26,76,862 रुपये की संपत्ति है। ये गहनों के शौकीन नहीं हैं। इनपर किसी तरह का कर्ज नहीं है। वाहन के नाम पर इनके पास एक मार्शल जीप है। 8962 पास खुद के रुपये और पत्नी के पास 1000 नकद। बैंक में जमा- 30,000, 80 हजार मूल्य की मार्शल जीप के मालिक। खुद के पास 56,000 व पत्नी के पास 88400 रुपये के जेवर।

बिजेंद्र के पास 1.29 करोड़ की संपत्ति
ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव करोड़पति तो हैं लेकिन वे गाड़ियों, गहनों व हथियारों के शौकीन नहीं हैं। वाहन के नाम पर उनके पास एक अंबेसडर कार है। उनके पास कोई हथियार नहीं है। उनकी कुल संपत्ति 1.29 करोड़ से अधिक की है। इनपर कोई कर्ज नहीं है। इन्हें हर माह मोबाइल टावर से किराये के रूप में 1200 रुपये महीने की आमदनी है।

नकद- खुद के पास 55 हजार व पत्नी के पास 30 हजार व बैंक में- 5870022 रुपये जमा।
कोई बंदूक का शौकीन, तो कोई कैशलेस
2.51 करोड़ संपत्ति के मालिक शिवचंद्र राम की

शिवचंद्र राम के पास 2.51 करोड़ की संपत्ति
कला-संस्कृति मंत्री शिवचंद्र राम कृषि और आवासीय भूमि धनी हैं के। वे 2.51 करोड़ संपत्ति के की ऑनर हैं। उनके पास 1.63 करोड़ की कृषि भूमि है, तो बेऊर और महुआ में 45.25 लाख की लागत का भवन भी है, हालांकि नकदी के रुप में उनके और पत्नी के पास ले-दे-कर 55,200 रुपये ही हैं।

कला-संस्कृति मंत्री होने की उन्होंने पहचान बनायी है। उनके पास कोई हथियार नहीं है। हां। उनके पास 13.45 लाख की महिंद्रा स्कॉर्पियो और दोपहिया वाहन अवश्य है। उनके पास 555 ग्राम सोना और 8.35 किलो ग्राम चांदी है, जिसकी लागत 17.56 लाख रुपये है। उनके और पत्नी के नाम पर 11.28 लाख का एनएसएस भी है। इतना होते हुए भी उन्होंने और पत्नी ने 41.60 लाख रुपये का लोन ले रखा है।

पढ़े :   बिहार में यह ठेले पर गोलगप्पे बेचने वाला लेता है 'पेटीएम' से पेमेंट

मंजू वर्मा के पास है 1.58 करोड़ की जमीन
समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के पास 1.94 करोड़ संपत्ति हैं की, उनकी खगड़िया और पटना में कई बीघा जमीन है, जिसकी लागत 1.58 करोड़ है। वैसे वह 1.94 करोड़ की संपत्ति की मालकिन है। उनके अौर पति के पास नकदी के रुप में महज 87 लाख रुपये हैं। उनके पास 9.3 लाख के गाय-भैंस भी हैं। मंजू वर्मा के पास स्कॉर्पियों गाड़ी और दोपहिया हीरो होंडा गाड़ी भी है, जिसकी लागत 9.32 लाख रुपये हैं। उनके पास 450 ग्राम सोना और 1.110 किलो चांदी भी है, जिसकी लागत 14.02 लाख रुपये हैं। उन्होंने बैंकों में 1.45 लाख का फिक्स डिपॉजिट भी करा रखा है। उन्होंने बैंक से एक लाख रुपये का कर्ज भी ले रखी है।

अशोक चौधरी के पास दो लाख नकद
शिक्षा और आइटी विभाग के मंत्री अशोक चौधरी सबसे अधिक नकद रखने वाले मंत्री है। कैबिनेट विभाग के बेवसाइट पर जारी उनके दस्तावेज के मुताबिक दो लाख नकद हैं। बैंक खाते में उनके पास 18 लाख 93 हजार रुपये जमा हैं। चार लाख साठ हजार रुपये की उन्होंने बीमा करायी है। करीब 26 लाख रुपये कीमत की उनके पास दो कारें हैं। जिनमें सवा नौ लाख रुपये की महिंद्रा और सोलह लाख की टोयोटा गाड़ी है। पांच लाख साठ हजार रुपये के जेवरात के वह मालिक हैं।

तिरूपति सर्विस स्टेशन नामक फर्म में उनके पचास लाख रुपये के निवेश भी हैं। 2016-17 में उन्होंने 3,89,740 रुपये आयकर के रूप में जमा कराया है। खुद के नाम आठ लाख रुपये का गाड़ी ऋण है। जबकि, पत्नी के नाम करीब तीस लाख रुपये का ऋण है.पत्नी के पास 25 लाख 15 हजार रुपये के जेवरात भी हैं। पत्नी के पास भी नकद एक लाख 55 हजार रुपये हैं। उनके बैंक खाते में 17 लाख् रुपये से अधिक जमा हैं और सावा दो लाख रुपये के बांड हैं।

38.84 लाख के कर्जदार हैं उद्योग मंत्री
उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह के व परिवार के पास एक करोड़ 30 लाख रुपये की संपत्ति है। वैसे उनके और परिवार के पास नकद के रुप में मात्र 45 हजार रुपये ही हैं। जय कुमार सिंह दो हथियारों के भी मालिक हैं। उनके पास से 32 बोर की रिवाल्वर अौर राईफल है, जिसकी कीमत 97 हजार रुपये है। उनके खुद के नाम तीन बैंकों में अकाउंट्स हैं, जिनमे 2,92,403 रुपये जमा हैं। इसके अलावा उनके परिवार के नाम से बैंकों में चार अकाउंट्स हैं, जिनमें 82,340 रुपये हैं। इनके अलावा उन्होंने छह लाख के एनएसएस भी ले रखा है।

पारिवार के नाम मे 6.75 लाख की एलआईसी भी है उनके पास। इतना कुछ होते हुए भी वे बड़े कर्जदारों में शुमार हैं। उन पर 38.84 लाख का कर्ज है। उनके पास नई-पुरानी 69.99 लाख की लागत की जमीन भी है। उनके पास 25.57 लाख की लागत की दो गाड़ियां क्रमश: मारुति और स्कॉर्पियो फ्रंटलाईनर भी है। उनके पास 18. 56 लाख के स्वर्णाभूषण हैं। इन सबके अलावा उनके पास एक लाख 69 हजार रुपये मूल्य की टीवी-फ्रिज भी है।

एक करोड़ की संपत्ति के मालिक हैं चंद्रशेखर
आपदा प्रबंधन विभाग के मंत्री प्रो चंद्रशेखर को आज भी एक पुरानी यामा मोटरसाइिकल और एक पांच लाख रुपये कीमत की स्कार्पियों गाड़ी है। रायफल रखने के शौकीन प्रो चंद्रशेखर को 60 लाख रुपये कीमत की 13 बीघा जमीन है। नकद के रूप में पत्नी समेत इनके पास कुल 50500 रुपये है। वहीं, बैंक में 13.97 लाख रुपये दिखाया गया है। इनकी पूरी संपत्ति का आकलन किया जाये तो इनके पास कुल संपत्ति में 80 लाख रुपये की जमीन और बैंक में 14 लाख रुपये दर्ज किया गया है। इनके वाहन, रायफल की कीमत शामिल किया जाये तो इनकी कुल संपत्ति एक करोड़ रुपये है। आपदा मंत्री पर 47.29 लाख रुपये का कर्ज भी है। प्रो चंद्रशेखर ने कृषि से 8.21 लाख रुपये की आमदनी दर्ज की है।
 
पंचायतीराज मंत्री की पत्नी पर 10 लाख का कर्ज
पंचायतीराज मंत्री कपिलदेव कामत और उनकी पत्नी की कुल संपत्ति दो करोड़ 69 हजार 229 रुपये की है। मंत्री के नाम पर एक करोड़ 30 लाख 70 हजार 579 की संपत्ति है जबकि उनकी पत्नी के नाम पर 69 लाख 98 हजार 650 रुपये संपत्ति है की। मंत्री के नाम पर 22 लाख 96 हजार 579 रुपये बैंकों में जमा है तो पत्नी के नाम पर छह लाख 47 हजार 650 रुपये जमा है। उनके पास खेतिहर जमीन के रूप में 91 लाख 90 हजार संपत्ति हैं की।

मंत्री ने एनएसएस व अन्य बांड के रूप में 60 हजार का निवेश किया है। उनके पास 4.70 लाख रुपये कीमत के दो वाहन हैं। मंत्री जी के पास महज 20 ग्राम सोना के गहने है जिसकी कीमत 54 हजार है जबकि उनके पत्नी के पास दो लाख 16 हजार के सोने के गहने और 80 हजार के चांदी के गहने हैं। पंचायती राज मंत्री के पास दस लाख का कमर्शियल मकान है। उन्होंने किसी प्रकार का लोन नहीं लिया है जबकि उनकी पत्नी के नाम पर दस लाख पांच हजार 537 का कर्ज है।

महेश्वर हजारी के पास 1.69 करोड़ की संपत्ति
नगर विकास एवं आवास मंत्री महेश्वर हजारी और उनकी पत्नी संध्या हजारी एक करोड़ 69 लाख 50 हजार 161 संपत्ति के की रुपये मालिक हैं। मंत्री के पास एक लाख एक हजार चार हजार 908 है जबकि उनकी पत्नी के पास 68 लाख संपत्ति की 45 हजार मालकिन हैं की 253।

नगर विकास मंत्री पर 16 लाख 34 हजार 607 रुपये कर्ज हैं। सरकार को सौंपे अपनी संपत्ति के विवरण में नगर विकास मंत्री श्री हजारी के दिये गये विवरण में पति और पत्नी दोनो गहने शौकीन हैं के। मंत्री के पास दो लाख 71 हजार का गहना है तो उनकी पत्नी के पास छह लाख 77 हजार 500 रुपये के गहने हैं। मंत्री के पास कैश के रूप में बैंक में 49 हजार 250 रुपये है तो उनकी पत्नी के पास 16 हजार 300 रुपये।

पढ़े :   यहां अब राज्य सरकार के पैसे से बनेगा बिहार का पहला अंतरराज्यीय बस टर्मिनल, ...जानिए

मदन मोहन झा हैं हथियारों के शौकीन
राजस्व व भूमि सुधार मंत्री डा मदन मोहन झा व उनकी पत्नी के पास मिलाकर तीन करोड़ 34 लाख की चल व अचल संपत्ति है। इसमें एक करोड़ 38 लाख चल व एक करोड़ 96 लाख अचल सपंत्ति है। उनके ऊपर लगभग 46 लाख का कर्ज है। मंत्री के पास नकद 75 हजार व उनकी पत्नी के पास 30 हजार है। साढे 31 लाख का वे एनएसएस, पोस्टल सेविंग आदि ले रखे हैं।

28 लाख की टोयटा गाड़ी उनके पास है। उनके पास 50 ग्राम सोना, जबकि पत्नी के पास 200 ग्राम सोना है। रिवॉल्वर, राइफल व बंदूक एक लाख 15 हजार का है। पैतृक गांव में 2.33 एकड़ जमीन व दरभंगा में 10 कट्ठा खेतिहर जमीन है। लक्ष्मीसागर, दरभंगा में 7300 स्क्वायर फीट, बहादुरपुर पटना में 1450 स्क्वायर फीट में मकान व द्वारिका नयी दिल्ली में 1300 स्क्वायर फीट में फ्लैट है। गांव में पुराना मकान है। राजीव नगर में ढाइ कट्ठा व मनीगाछी में छह कट्ठा आवासीय जमीन है।

राय के पास नहीं एक भी पैसे नकद
राइफल और बंदूक के शौकीन कृषि मंत्री राम विचार राय 78 लाख रुपये की संपत्ति के मालिक हैं, लेकिन संपत्ति का ब्योरा देने के दौरान उन्होंने नकद के रूप में एक भी रुपया नहीं बताया है। हालांकि इनके चार बैंक खाता में कुल 24.49 हजार रुपये बताया है। इनके पास से 25 हजार रुपये की एक 1995 मॉडल पुरानी जीप, 30 हजार रुपये कीमत की एक राइफल, 7500 रुपये की एक बंदूक, 64 हजार रुपये की एक पिस्टल और 56 हजार रुपये की 20 ग्राम सोने की गहना है। राय के पास 22.43 लाख रुपये की 2.16 एकड़ खेती की जमीन है। वहीं पांच लाख रुपये कीमत और 25 लाख रुपये कीमत की दो मकान भी है।

श्रवण कुमार के पास दो करोड़ तीन लाख की संपत्ति
ग्रामीण विकास सह संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार और उनकी पत्नी मंजू कुमारी दो करोड़ तीन लाख 66 हजार 907 रुपये के चल-अचल संपत्ति के मालिक हैं। मंत्री के ऊपर किसी तरह का लोन नहीं है जबकि उनकी पत्नी के नाम पर दो लाख 45 हजार 415 रुपये कर्ज है का।
अपनी संपत्ति को सार्वजनिक करते हुए उन्होंने बताया है कि उनके पास एक लाइसेंसी रिवाल्वर और एक लाइसेंसी राइफल है। मंत्री के नाम पर एक करोड़ 12 लाख 80 हजार चल अचल संपत्ति है तो पत्नी मंजू कुमारी के नाम पर कुल 90 लाख 86 हजार 737 की चल-अचल संपत्ति है। अपने संपत्ति के विवरण में उन्होंने बताया है कि उनका विभिन्न बैंकों में छह लाख 55 हजार 679 रुपये जमा है। उन्होंने 10 लाख 80 हजार का निवेश किया है।

मंत्री के पास एक एंबेसडर और एक बीएमडब्लू कार हैं जिसकी कीमत कुल 13 लाख 96 हजार 491 है। उनके पास 25 हजार का चांदी का गहना और दो लाख के सोने का गहना है। मंत्री के पास तीन घड़ी है जिसकी कीमत 10 हजार है। उनके पास ढ़ाइ लाख के टेलीविजन और फर्नीचर है। इसी तरह से खेतिहर जमीन है जिसकी वर्तमान में कीमत 35 लाख 58 हजार है। गैर कृषि भूमि की कीमत 20 लाख है। उनके पास एक ग्रामीण मकान और एक शहरी मकान है जिसकी कुल कीमत 20 लाख है।

मेड इन जर्मन बंदूक है पीएचइडी मंत्री के पास
पीएचइडी मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा के पास गहने व वाहन नहीं हैं, लेकिन 30 हजार रुपये कीमत की मेड इन जर्मन बंदूक उनके पास है। उनकी पत्नी के पास पांच लाख 39 हजार के गहने है।

वे और उनकी पत्नी के पास नकद एक लाख दस हजार है। मंत्री के पास चल व अचल संपत्ति मिला कर लगभग एक करोड़ 81 लाख है। इसमें पत्नी सहित जमीन व मकान में भाइ भी हिस्सेदार हैं। मंत्री का तीन विभिन्न बैंक में 25 लाख 85 हजार जमा है। इसके अलावा दो बैंक में फिक्स्ड डिपोजिट ढाइ लाख जमा है। पत्नी का बैंक में पांच लाख 13 हजार जमा है। अचल संपत्ति में जमीन व मकान मिलाकर एक करोड़ 42 लाख है जिसमें उनके भाई भी हिस्सेदार हैं। पिछले साल मंत्री द्वारा चार लाख 83 हजार 585 रुपये इंकम टैक्स रिटर्न किया गया है।

6.36 करोड़ के मालिक हैं सहकारिता मंत्री
रिवाॅल्वर के शौकीन सहकारिता मंत्री आलोक कुमार मेहता 6.36 संपत्ति के की करोड़ मालिक हैं। एक लाख रुपये की कीमत की दो गाय व दो बछड़ा भी पाले हुए हैं। संपत्ति का ब्योरा में उन्होंने बताया है कि उनके पास 55359 रुपये नकद है। परिवार समेत इनके पास बैंक में कुल 15.48 लाख रुपये है। वहीं बांड्स आदि में इनका 61.11 लाख रुपये निवेश किया गया है।

संपत्ति के रूप में 6.72 लाख रुपये दर्ज कराते हुए मेहता ने कहा है कि उनके पास 10.79 लाख सोना की, चांदी, 72,427 रुपये का रिवॉल्वर और 67 हजार रुपये की एक ट्रेड मिल मशीन है अन्य। 91 हजार रुपये कीमत की फ्रीज और 22 हजार रुपये की एक वाशिंग मशीन है। मेहता के पास कृषि भूमि के रूप में 48.10 लाख कीमत की जमीन, 95 लाख की गैर कृषि जमीन, बंगलुरू में 12 लाख रुपये कीमत की एक प्लॉट, 3.30 करोड़ की एक आवासीय भवन और पटना में 45 लाख रुपये कीमत की एक भवन के मालिक हैं ।

खाद्य आपूर्ति मंत्री हैं 1.12 करोड़ के मालिक
राज्य के खाद्य आपूर्ति मंत्री मदन सहनी 1.12 करोड़ के मालिक हैं। 18.05 लाख कीमत की स्कार्पियो और टाटा इंडिगो के मालिक सहनी के पास पूरी संपत्ति में 53.60 लाख जमीन है की। पत्नी और तीन बच्चे के समेत अपनी संपत्ति की ब्योरा में उन्होंने बताया है कि उनके पास कुल नकद 6.21 लाख है, वहीं चार बैंक खातों में 11.80 लाख रुपये जमा किया हुआ है।

पढ़े :   एसडीएम ने जनप्रतिनिधियों से आम जनता को स्वच्छता के प्रति जागरुक करने का किया आग्रह 

इनके पास 7.26 लाख कीमत की 259 ग्राम सोना-चांदी और 6.14 लाख की एलआइसी में निवेश किया हुआ है। सहनी 8490 रुपये कर के रूप में भुगतान भी किया है। अन्य संपत्ति के रूप में इन्होंने 7.50 लाख रुपये दर्ज किया है।

मालकिन है 21.75 लाख रुपये की पर्यटन मंत्री
पर्यटन मंत्री अनिता देवी 21.75 लाख मालकीन हैं की। उनके पास नकदी के रुप में मात्र 30 हजार रुपये हैं, हालांकि उनके पास 395 ग्राम के स्वर्णाभूषण है, जिसकी लागत 11.85 लाख रुपये है। उनके पास पुरानी मार्शल गाड़ी है, जबकि 10.64 एकड़ कृषि भूमि और 260 वर्ग फीट आवासीय भूमि है। अपनी संपत्ति घोषणा पत्र में उन्होंने अपनी कृषि और आवासीय भूमि की लागत नहीं दर्शायी है।

2.42 करोड़ के मालिक हैं शैलेश
राज्य के अधिक के से ग्रामीण कार्यमंत्री 2.42 करोड़ मालिक हैं। इनकी पत्नी ही नहीं बच्चे भी है लखपति। मंत्री और पत्नी के पास कुल 32 दुधारू पशु है। जिसमें 17 गाय और 15 भैंस शामिल हैं। मंत्री के पास एक दोनाली बंदूक और वाहन के नाम पर स्कार्पियो है। मंत्री और उनकी पत्नी और बच्चों के पास 76 लाख से अधिक की चल संपत्ति और मंत्री और पत्नी के नाम 1.65 करोड़ से अधिक की अचल संपत्ति है।

परिवहन मंत्री 6.22 करोड़ के मालिक
चंद्रिका राय व उनकी पत्नी 6.24 करोड़ मालिक हैं की। उनके पास चल से अधिक अचल संपत्ति है। इसमें आवासीय जमीन व कॉमर्शियल व आवासीय मकान की वर्तमान बाजार मूल्य दोनों के पास लगभग पांच करोड़ 95 लाख की है। मंत्री के पास नकद नौ लाख 14 हजार तो उनकी पत्नी के पास छह लाख 78 हजार है। बैंक में मंत्री का आठ लाख 18 हजार व उनकी पत्नी का पांच लाख 84 हजार है। मंत्री के पास तीन लाख 86 हजार की स्कार्पियो गाड़ी है। पत्नी के पास तीन लाख 45 हजार का गहना है। अन्य संपत्ति मंत्री के पास लगभग छह लाख 15 हजार का है। अचल संपत्ति में खेतिहर जमीन मात्र 15 लाख है।

आवासीय जमीन बेली रोड, पहाड़ी पटना व दरियापुर छपरा में 24 कट्ठा है जिसकी वर्तमान बाजार कीमत लगभग एक करोड़ 51 लाख है। उनकी पत्नी के पास बेली रोड पर 14 कट्ठा जमीन है जिसकी कीमत एक करोड़ 24 लाख है। पाटलिपुत्रा में बने मकान की कीमत लगभग 90 लाख है। पत्नी के पास गया मसौढ़ी रोड के अलावा किदवईपुरी स्थित मकान की कीमत डेढ़ करोड़ है। मंत्री के पास 30 लाख का एक फ्लैट है। पत्नी के नाम नागेश्वर कॉलोनी में 20 लाख का फ्लैट है।

सिद्दीकी के सात खातों में जीरो बैलेंस
अब्दुल बारी सिद्दीकी के दस बैंकों में खाता है। लेकिन, इनमें सात खाते में एक भी रुपया जमा नहीं है। तीन खाते में कुल मिला कर 26 लाख 13 हजार रुपये जमा हैं। इनके पास नकद 23 हजार 250 रुपये हैं। पांच लाख 14 बीमा हैं का हजार रुपये। उनके पास महिंद्रा एक्सयूवी और मारूति कार भी है। रिवाल्वर और बंदूक के साथ साढे सात लाख कीमत की खेतिहर जमीन है। इनके नाम दो लाख 77 हजार रुपये का बिजली बिल बकाया है। पत्नी के नाम पटना और गाजियाबाद में फ्लैट है।

मुनेश्वर के पास 1.65 करोड़ की संपत्ति
खान-भूतत्व मंत्री मुनेश्वर चौधरी के पास 1.65 करोड़ संपत्ति है की। उनके पास 27 हजार की राईफल भी है। खुद खान भूतत्व मंत्री और उनकी पत्नी-बेटे के नाम बैकों में 31.43 लाख रुपये जमा हैं। इसके अलावा उनके पास 9.36 लाख की लागत वाली दो गाड़ियां क्रमश: स्काॅर्पियो और मोटर साईकिल हैं। उनके व पत्नी-पुत्र के पास 167 ग्राम जेवर हैं, जिसकी लागत 4.95 लाख रुपये है। पत्नी, बेटा के पास 1.29 करोड़ की जमीन भी है।

2.15 करोड़ के मालिक हैं विजय प्रकाश
राज्य के श्रम मंत्री विजय प्रकाश की कुल संपत्ति 21515378 रुपये की संपत्ति मालिक हैं के। पटना में इनका 60 लाख मूल्य का मकान भी है। पत्नी का पटना व जमुई में 87.50 लाख का व्यावसायिक भवन है। मंत्री पर 12.13 लाख व पत्नी पर 9.63 लाख कर्ज है। मंत्री के पास 2.55 लाख मूल्य का 19 दुधारू पशु भी है। मंत्री के पास एक राइफल व एक पिस्टल है। मंत्री के पास 25 हजार व पत्नी के पास 10 हजार कैश है।

अवधेश के पास एक किलो सोना
अवधेश कुमार सिंह के पास पांच करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति है। उनके पास एक किलो से अधिक सोना और सर्वाधिक संपत्ति जमीन, भवन और होटल व्यवसाय में निवेश है। उनके पास 27 लाख रुपये की सोना, अन्य संपत्ति 15.50 लाख, कृषि जमीन 47.50 लाख की, गैर कृषि जमीन 1.15 करोड़ की, 46 लाख कीमत के व्यवसायिक व आवासीय भवन और 1.67 करोड़ आवास के साथ 42.28 लाख रुपये के कर्जदार हैं की।

1.88 करोड़ के ऑनर हैं संतोष निराला
अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण मंत्री संतोष कुमार निराला 1.88 करोड़ के ऑनर हैं। उनके पास बैंकों में तो ले-दे कर 10 ही लाख हैं, किंतु उनके पास 81 लाख की लागत की कृषि चार किता कामती जमीन हैं। इन सबके अलावा उनके पास बक्सर-पटना में मकान भी है, जिसकी लागत 26 लाख रुपये है। उनके पास अपनी स्कॉर्पियो गाड़ी तो है ही। साथ-साथ 16 लाख के स्वर्णाभूषण भी हैं।

Rohit Kumar

Founder- livebiharnews.in & Blogger- hinglishmehelp.com | STUDENT

Leave a Reply

error: Content is protected !!