सऊदी के नेशनल फेस्टिवल में बिरयानी कबाब पर भारी पड़ रहा है बिहारी लिट्टी-चोखा, …जानिए

सऊदी अरब के रियाद में नेशनल फेस्टिवल में बिहार की धूम मची है। बिरयानी कबाब पर लिट्‌टी-चोखा भारी पड़ रहा है। सऊदी अरब सरकार ने भारत को विशेष आमंत्रित पार्टनर बनाया है। वहां के इंडियन पैवेलियन में सबसे अधिक भीड़ लिट्टी-चोखा के स्टॉल पर है। सऊदी अरब के बिहार चैप्टर द्वारा इंडियन पैवेलियन में बिहार की ब्रांडिंग भी जबरदस्त तरीके से की गई है।

बिहार पैवेलियन को आर्यभट्‌ट, चाणक्य, नालंदा विश्वविद्यालय, बौद्ध मंदिर, मधुबनी पेंटिंग, मखाना और खुदाबख्श खां लाइब्रेरी की थीम पर सजाया गया है। इस फेस्टिवल में पहली बार बिहार का पैवेलियन बनाया गया है।

बिहार फाउंडेशन के सऊदी चैप्टर के प्रेसिडेंट ओबैदुर रहमान ने कहा कि इससे राज्य के पर्यटन को बल मिलेगा। इस फेस्टिवल में हर दिन करीब एक लाख से अधिक दर्शक आते हैं। उन्हें बिहार के पर्यटन के बारे में विशेष जानकारी दी जाती है। फेस्टिवल में आने वाले लोग विशेष तौर पर बिहारी व्यंजन लिट्टी-चोखा का लुफ्त उठा रहे हैं। मधुबनी पेटिंग और मखाना के बारे में भी लोग जानकारी ले रहे हैं। रमजान के दिनों में सऊदी में मखाना की मांग काफी होती है।

चीन समेत 60 देशों के राजदूतों ने किया मुआयना
बिहार फाउंडेशन के सऊदी चैप्टर के प्रेसिडेंट ने कहा कि अभी तक बिहार पैवेलियन का चीन समेत 60 देशों के राजदूतों ने मुआयना किया है। तीन सप्ताह तक चलने वाले इस नेशनल फेस्टिवल के पहले दिन भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी आई थी। उन्होंने भी बिहार पैवेलियन को देखा।

पढ़े :   ​पुल की मांग को लेकर विगत सात दिन से कोसी दियारा में हो रहा है आमरण अनशन

Leave a Reply

error: Content is protected !!