फिर बजा बिहारी प्रतिभा का डंका: पटना के आदर्श को गूगल में मिला 1.20 करोड़ का पैकेज

बिहार के युवा अपनी प्रतिभा अौर मेहनत से पूरी दुनिया में देश व समाज नाम रौशन करते हैं। ऐसे ही एक युवा है राजधानी पटना के बुद्धा कॉलोनी निवासी 22 वर्षीय छात्र आदर्श कुमार। आदर्श को गूगल में 1 करोड़ 20 लाख के पैकेज पर नौकरी मिली है। आदर्श आईआईटी, रुड़की में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के अंतिम वर्ष के छात्र हैं। वह अगस्त में जर्मनी के म्यूनिख स्थित गूगल के ऑफिस में बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर योगदान देंगे।

आदर्श के पिता वीरेंद्र शर्मा वकील हैं, जबकि मां अनीता शर्मा गृहिणी हैं। छोटा भाई अमनदीप आईआईटी, पटना से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है। आदर्श ने बारहवीं तक की पढ़ाई पटना के बीडी पब्लिक स्कूल से की है। आदर्श कहते हैं, शुरू से उनकी रुचि मैथ्स और प्रोग्रामिंग में थी। लगभग दो माह तक गूगल ने ऑनलाइन और ऑफलाइन इंटरव्यू के बाद आदर्श का सेलेक्शन किया है।

आदर्श कहते हैं कि प्रोग्रामिंग कई तरह की होती है। मेरा इंटरेस्ट था तो मैं कंपीटिटिव प्रोग्रामिंग पर ज्यादा फोकस किया रहता था। कई ऐसे कंपीटिशन में हिस्सा लेता था जो प्रोग्रामिंग से ही ताल्लुक रखते थे। इससे मुझे नयी-नयी जानकारी मिलती थी। मेरा ज्ञानवर्द्धन होता था। गूगल द्वारा पूछे गये इंटरव्यू में मेरा कंपीटिशन में हिस्सा लेना बहुत लाभदायक रहा। मेरा कैंपस सेलेक्शन कहीं और हुआ था। गूगल में मेरा ऑफ कैंपस सेलेक्शन है।

बता दें कि इससे पहले बिहार की ही मधुमिता को गूगल ने 1 करोड़ के पैकेज का ऑफर दिया था। पटना से सटे छोटे से कस्बे में रहने वाली मधुमिता को Google ने एक करोड़ का पैकेज दिया है। खगौल की रहने वाली मधुमिता ने 7 राउंड इंटरव्यू पार करने के बाद गूगल में नौकरी पाने में सफलता हासिल की, अब कंपनी ने उनकी नियुक्ति स्विट्जरलैंड के गूगल हेड ऑफिस में किया है।

पढ़े :   बिहार म्यूजियम को देख अभिभूत हुए पीएम मोदी, तारीफ में लिखे ये शब्‍द ...जानिए

Leave a Reply

error: Content is protected !!