फोर्ब्स की लिस्ट में शामिल इस बिहारी को अब ब्रिटेन की रॉयल फैमिली देगी अवॉर्ड, …जानिए

बिहार के 26 वर्षीय शरद सागर को इस साल के क्वीन्स यंग लीडर्स में शामिल किया गया है। इंग्लैंड की महारानी एलिजाबेथ के सम्मान में स्थापित किया गया ये अवार्ड राष्ट्रमंडल के 52 देशों में प्रभावपूर्ण कार्य कर रहे सिलेक्टेड यूथ्स को सम्मानित करता है।

ये फेमस अवार्ड आखिरी बार दिया जाएगा और बिहार से ये सम्मान पाने वाले शरद पहले एवं एकमात्र यूथ होंगे। बता दें कि 2016 के शुरुआत में 30 साल से कम उम्र की 30 ग्लोबल टैलेंट की फोर्ब्स लिस्ट में शरद सागर को शामिल किया गया था।

एशिया के सिलेक्टेड 24 में से शरद इकलौते इंडियन
शरद एशिया के 24 सिलेक्टेड यूथ्स में से हैं जिन्हें ब्रिटेन के रॉयल फैमिली द्वारा ये अवार्ड मिलेगा। इससे पहले शरद नॉर्वे देश के रॉयल फैमिली, नोबेल पीस सेंटर और पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के अतिथि के रूप में शामिल हो चुके हैं। पिछले ही हफ्ते शरद को राष्ट्रपति ओबामा द्वारा एक साल के अंदर दूसरा इन्विटेशन आया था।

विनर्स का अनाउंस करते हुए, ब्रिटेन रॉयल फैमिली के प्रिंस हैरी ने कहा कि ये अवॉर्ड उन सभी इन्सपिरेशनल यूथ्स के साहस और प्रयासों को सम्मानित करता है जो राष्ट्रमंडल देशों के सबसे चुनौतीपूर्ण परेशानियों का समाधान कर रहे हैं और एक बेहतर दुनिया बनाने में अहम् भूमिका निभा रहे हैं।

कौन हैं शरद सागर
2016 के शुरुआत में 30 साल से कम उम्र की 30 ग्लोबल टैलेंट की फोर्ब्स लिस्ट में शरद सागर को शामिल किया गया था। रिचटोपिया की ओर से जारी लिस्ट में भारतीय मूल के आठ युवा एंटरप्रेन्योर में शरद सबसे आगे थे। रिचटोपिया ने लिखा है कि 25 साल से कम उम्र के यह 100 एंटरप्रेन्योर वर्ल्ड को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभा रहे हैं।

पढ़े :   कला प्रेमियों के लिए खुशखबरी: 'दिल्ली हाट' की तर्ज पर बिहार में बना 'पटना हाट', ...जानिए

पटना के श्रीकृष्णापुरी में रहते हैं शरद
बिमल कांत प्रसाद के बेटे शरद सागर ग्लोबल स्तर पर पसंद किए जाते रहे हैं। फोर्ब्स सूची में शामिल होने के बाद वर्ल्ड बैंक के निदेशक समेत दुनियाभर के 11 हजार लोगों ने शरद को बधाई दी थी। शरद के फेसबुक फैन पेज (शरद सागर ऑफ़िशियल) पर करीब 3 लाख लोग इन्हें फॉलो करते हैं।

2015 में फोर्ब्स सूची से पहले इंटरनेशनल सोशल इंटरप्राइज संगठन डेक्सटेरिटी ग्लोबल के संस्थापक-सीईओ शरद सागर को 2013 में रॉकेफेलर फाउंडेशन ने शताब्दी के 100 सर्वश्रेष्ठ सामाजिक एंटरप्रेन्योर की लिस्ट में शामिल किया। शरद यूएन वर्ल्ड समिट यूथ अवॉर्ड के विनर रहे हैं। 2015 में डेविस प्राइज भी मिला।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!