बिहार में बस से सफर हुआ महंगा, …जानिए

डीजल की कीमत में वृद्धि का बोझ 25 फरवरी से यात्रियों को निजी बसों के सफर के दौरान उठाना होगा। ट्रांसपोर्ट फेडरेशन ने बिहार के सभी मार्गों पर निजी बसों का किराया 20 प्रतिशत बढ़ाने का निर्णय लिया है। फेडरेशन ने जिला स्तर, अंतर जिला और राज्य स्तर बसों का भाड़ा निर्धारित कर दिया है।

फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर सिंह ने बताया कि 2015 के बाद डीजल, रोड टैक्स, टॉल टैक्स, गाडिय़ों का बीमा, कलपुर्जे और टायर सहित सभी तरह के खर्च में बढ़ोतरी हुई है। फेडरेशन ने यात्रियों की जेब का ख्याल रखते हुए 20 प्रतिशत किराया बढ़ाने का निर्णय लिया है। बताया गया कि सभी जिलों के बस के भाड़े में 20 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। एसी और लक्जरी बसों के किराए में भी वृद्धि प्रभावी होगी। रांची, टाटानगर, हजारीबाग, डालटेनगंज सहित अन्य प्रदेशों के बीच चलने वाली बसों का किराया भी बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।

पटना से प्रमुख शहरों का भाड़ा

शहर नया किराया (रुपया)
 रक्सौल  220
 जयनगर  230
 सीतामढ़ी  170
 मुजफ्फरपुर  90
 दरभंगा  165
 साहेबगंज  165
 समस्तीपुर  105
 शिवहर  180
 मुंगेर  155
पढ़े :   नियोजित शिक्षक, संविदा कर्मियों और सभी के लिए 7वां वेतन आयोग से जुड़ी बड़ी खबर...

Leave a Reply