वाल्मीकीनगर से सुंदर बिहार में कोई जगह नहीं, इको टूरिज्म के लिहाज से होगा विकसित

शनिवार को पश्चिम चम्पारण के मगुराहा पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इस क्षेत्र से अच्छा इको टूरिज्म के लिए और सुंदर जगह कहां है? यहां से लेकर वाल्मीकिनगर तक यह पूरा क्षेत्र प्रकृति की गोद में अवस्थित है। यह बिहार में सबसे सुंदर स्थान है। इस क्षेत्र में इको टूरिज्म का विकास किया जाएगा। इस बार यही देखने आए हैं। बाद में मुख्यमंत्री ने सोफा मंदिर में पूजा अर्चना की।

उन्होंने वन विभाग और सिंचाई विभाग को सोफा क्षेत्र का कटाव से बचाव करने का निदेश दिया। मुख्यमंत्री ने सोफा मंदिर क्षेत्र को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की घोषणा करते हुए कहा कि इको टूरिज्म के लिये यह बेहतरीन स्थल है। पर्यावरण को संतुलित रखते हुए इस क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा जाएगा।

मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह को सोफा मंदिर परिसर को पर्यटन विभाग और पुरातत्व विभाग से दिखवाने का निर्देश दिया। बाद में उन्होंने मगुराहा वन क्षेत्र का भ्रमण कर जंगली जानवरों को देखा। वहां से मुख्यमंत्री ललमटिया हिल टॉप गए। इस स्थान को भी उन्होंने पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए वन पर्यावरण विभाग के प्रधान सचिव विवेक कुमार सिंह को निर्देश दिया।

पढ़े :   भारतीय ट्रेनों में मधुबनी आर्ट बनाने वालों की यूएन ने जमकर की तारीफ

Leave a Reply

error: Content is protected !!