किशनगंज के सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का निधन

बिहार के किशनगंज से कांग्रेस के कद्दावर सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी नहीं रहे। गुरुवार की रात उनका निधन दिल का दौरा पड़ने से हो गया। वे 76 वर्ष के थे। जानकारी के मुताबिक, गुरुवार की देर रात एक कार्यक्रम में भाग लेने के दौरान ठंड लगने से सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी की तबीयत खराब हो गयी थी। उसके बाद उन्हें किशनगंज सर्किट हाउस में लाया गया, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके पैतृक गांव ताराबाड़ी में सुपुर्द-ए-खाक की रस्म अदा की जायेगी।

गौरतलब है कि मौलाना कांग्रेस के टिकट पर किशनगंज लोकसभा सीट से लगातार दो बार सांसद चुने गए थे। 2009 में पहली बार सांसद चुने गए थे। इसके बाद वे मोदी लहर के बावजूद 2014 में भी कांग्रेस के टिकट पर सांसद बने। मौलाना का जन्म 15 फरवरी 1942 को हुआ था। सांसद की शिक्षा दारुल उलूम देवबंद में हुई जहां से उन्होंने स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल की थी। मौलाना की पत्नी सलमा खातून का निधन नौ जुलाई, 2012 को हो चुका है। मौलाना अपने पीछे तीन पुत्र और दो पुत्री को छोड़ गए हैं।

पढ़े :   बिहार उपचुनाव में हुई सहानुभूति की जीत

Leave a Reply

error: Content is protected !!