जिस तेजस विमान से रक्षा मंत्री ने रचा इतिहास उसे उड़ा रहा था बिहार का लाल, …जानिए

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कर्नाटक के बेंगलुरु में स्वदेशी लड़ाकू विमान ‘तेजस’ में उड़ान भरी। राजनाथ सिंह ‘तेजस’ में उड़ान भरने वाले देश के पहले रक्षा मंत्री बने। इस उड़ान में एक खास बात हुई जो बिहार के लिए भी गर्व का क्षण बना। दरअसल रक्षा मंत्री ने जिस जिस तेजस से उड़ान भरी उसे बिहार के लाल एयर वाइस मार्शल नर्वदेश्वर तिवारी उड़ा रहे थे।

सीवान जिले के निवासी हैं एयर वाइस मार्शल नर्वदेश्वर तिवारी
बिहार के सीवान जिले के गुठनी प्रखंड के श्रीकरपुर गांव निवासी नर्वदेश्वर तिवारी ने गुरुवार को बेंगलुरु स्थिति हिंदुस्तान एरोनॉटिकल लिमिटेड से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ उड़ान भरकर इतिहास रच दिया। उनकी इस सफलता के बाद उनके पैतृक गांव श्रीकरपुर में खुशी का माहौल है।

ग्रामीणों का कहना है कि तेजस लड़ाकू विमान में किसी भी रक्षा मंत्री द्वारा भरी गयी यह पहली उड़ान है और उससे भी बड़ी बात यह है कि उसको नर्वदेश्वर तिवारी उड़ा रहे थे। उनके परिजनों ने बताया कि नर्वदेश्वर तिवारी की प्रारंभिक शिक्षा बोकारो के सेंट जेवियर स्कूल से पूरी हुई। उसके बाद एमबीए की पढ़ाई पूरी कर एयरफोर्स ज्वाइन किया और देहरादून स्थिति आईएमए से पास आउट होकर एयरफोर्स में फ्लाइंग लेफ्टिनेंट के पद पर योगदान दिया। उनके पिता चन्द्रमौलि तिवारी भी बोकारो में जीएम थे। उनके बड़े भाई मेजर डॉ. कस्तूरी तिवारी और निगम तिवारी हैं। उनके परिवार में उनकी पत्नी डॉ. अर्चना तिवारी, एक पुत्र और एक पुत्री है।

नर्वदेश्वर तिवारी ने बातचीत में बताया कि जब रक्षा मंत्री के साथ गुरुवार को तेजस के साथ उड़ान भरने की तैयारी चल रही थी। उस समय वह इसको लेकर काफी उत्सुक थे। उन्होंने बताया कि तीस मिनट तक हवा में उड़ने के बाद वह सुरक्षित अपनी उड़ान से उतर गए। इस समय नर्वदेश्वर तिवारी एयर वाइस मार्शल के पद पर तैनात हैं।

पढ़े :   बिहार की बेटी को ऑस्ट्रेलिया में मिलेगा डिजिटल लीडरशिप ऑफ़ द इयर अवार्ड, ...जानिए

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा-रोमांचक रहा अनुभव
हवाई सफर के बाद राजनाथ सिंह ने कहा कि विमान में सफर का उनका अनुभव रोमांचक रहा। सिंह ने विमान से उतरने के बाद अपनी उड़ान को सहज और आरामदायक बताया।

Leave a Reply