आप के 20 विधायक अयोग्‍य करार: राष्ट्रपति ने चुनाव आयोग की सिफारिश को दी मंजूरी, …जानिए

ऑफिस ऑफ प्रॉफिट के मामले में फंसे आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों की सदस्यता आखिरकार रद्द कर दी गई है। इस मामले में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुख्य चुनाव आयोग की सिफारिश पर अमल करते हुए 20 विधायकों को अयोग्य करार दे दिया है।

दरअसल चुनाव आयोग ने शुक्रवार को राष्ट्रपति कोविंद से आप के इन 20 विधायकों को अयोग्य घोषित किए जाने की सिफारिश की थी। चुनाव आयोग का मानना है कि 20 विधायक ‘ऑफिस ऑफ प्रॉफिट’ के दायरे में आते हैं।

इस मामले में पार्टी ने दिल्‍ली हाईकोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया था, लेकिन वहां भी उसे झटका लगा। कोर्ट ने अंतरिम राहत देने से इनकार करते हुए पूछा था कि चुनाव आयोग से नोटिस मिलने के बावजूद विधायक पेश क्‍यों नहीं हुए।

क्या था मामला
आप के 21 विधायक दिल्ली सरकार में संसदीय सचिव बनाए गए थे। विधायक होते हुए वो इस पद पर नहीं रह सकते थे क्योंकि ये लाभ का पद माना जाता है। इसी वजह से सदस्यता छीनने की सिफारिश की गई। विधायक जरनैल सिंह ने पंजाब विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए पहले ही दिल्ली विधानसभा की सदस्यता छोड़ दी थी।

पढ़े :   दिल्ली जाना होगा आसान: लखनऊ-गाजीपुर एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगी पटना-बक्सर फोर लेन सड़क

Leave a Reply