बिहार के सभी गांवों में पहुंची बिजली, …जानिए

बिहार का कोई गांव अब बगैर बिजली के नहीं है। सभी गांवों में बिजली पहुंच गयी है। बीती रात शेष बचे सभी गांवों में बिजली पहुंचने के बाद बिहार पूर्ण विद्युतीकृत प्रदेश की श्रेणी में आ गया। केंद्र सरकार ने भी मंगलवार को जारी अपनी रिपोर्ट में बिहार को पूर्ण विद्युतीकृत माना है।

अभी भी देश के 1694 गांवों में बिजली नहीं
केंद्र की रिपोर्ट के अनुसार देश के 12 राज्य ऐसे बचे हैं जो पूर्ण विद्युतीकृत नहीं हो पाए हैं। इन राज्यों के 1694 गांवों में बिजली पहुंचानी शेष है। इनमें सर्वाधिक गांव अरुणाचल प्रदेश के हैं जहां 1009 गांव बगैर बिजली के हैं जबकि सबसे कम गांव कर्नाटक के हैं जहां मात्र चार गांवों में ही बिजली पहुंचानी शेष रह गयी है।

पावरहोल्डिंग कंपनी के अनुसार बिहार में 39073 गांव हैं। 12 वर्ष पूर्व सूबे के 70 से 80 फीसदी गांवों में बिजली नहीं पहुंची थी। इसके अलावा 96 फीसदी घरों में अंधेरा था। वर्ष 2005 में नीतीश सरकार बनने के बाद पावर सेक्टर पर गंभीरता से काम शुरु हुआ। आज बिहार के 100 फीसदी गांवों तक बिजली पहुंच चुकी है। तकनीकी गड़बड़ियों के कारण कुछ गांवों तक बिजली पहुंचाने की समस्या कुछ दिनों में दूर कर ली जाएगी।

पिछले महीने तक पावर होल्डिंग कंपनी तीन प्रोजेक्ट पर एक साथ काम कर रही है। इसमें पहला गांवों तक बिजली पहुंचाना, दूसरा- टोलों तक बिजली और तीसरा, हर घर तक बिजली पहुंचाने की योजना शामिल थी। आज पहला लक्ष्य पूरा हो चुका है। इसके बाद कंपनी टोलों तक बिजली पहुंचाने को लेकर फोकस करेगी। इसके साथ ही हर घर बिजली का अभियान भी चलेगा।

पढ़े :   मुजफ्फरपुर समेत 7 जिलों में बनेगा बालाजी तिरुपति वेंकटेश्वर मंदिर, ...जानिए

बुधवार को होगी विधिवत घोषणा
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को बिहार के पूर्ण विद्युतीकृत होने की विधिवत घोषणा करेंगे। इसके लिए राज्य सरकार की ओर से समारोह का आयोजन किया गया है। वर्ष 2005-06 में अंधेरे के खिलाफ शुरु किया गया सफर 12 वर्षों के बाद पूरा हो रहा है और बिहार के पूर्ण विद्युतीकृत होने का सपना साकार हो रहा है।

केंद्र ने अन्य राज्यों से कहा- बिहार का मॉडल अपनाओ
पिछले दिनों देशभर के उर्जा मंत्रियों के सम्मेलन में केंद्र ने राज्यों से ग्रामीण विद्युतीकरण के बिहार मॉडल को अपनाने की अपील की थी। केंद्र ने सीएम बिजली संबंधन योजना के तहत हर घर बिजली की भी सराहना की। बिहार की इस योजना को प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर बिजली योजना ‘सौभाग्य’ में भी शामिल किया गया है। इसके पहले भी केंद्रीय उर्जा राज्य मंत्री आर.के. सिंह ने पावर सेक्टर में बिहार के कार्यों की तारीफ कर चुके हैं।

Leave a Reply

error: Content is protected !!