स्वास्थ्य मंत्रालय (बिहार) के जिलेवार कोरोना (#Covid19) अपडेट में त्रुटि

विगत कुछ दिनों से स्वास्थ्य विभाग (बिहार) के द्वारा जारी कोरोना मरीजों या ठीक हुए मरीजों या एक्टिव मरीजों के आंकड़ों में त्रुटि देखने को मिल रहा है। अब जब ठीक हुए मरीजों की संख्या में त्रुटि है तो एक्टिव मरीजों की संख्या में भी त्रुटि होगा। इसके अलावा जब कोरोना मरीजों की संख्या में त्रुटि है तो भी एक्टिव मरीज की संख्या में त्रुटि होना स्वाभाविक है।

अब मुद्दे की बात करते हैं, स्वास्थ्य विभाग दो बार जिलेवार आंकड़ा देता है। एक सुबह 10 बजे तक का और दूसरा शाम में 4 बजे या उसके बाद। अब आप दोनों के जब जिलेवार आंकड़ा को गौर से देखिएगा तो पता चलेगा की कई जिलों में कल शाम में जो मरीज ठीक हुआ था। वो आज सुबह फिर एक्टिव मरीज में तब्दील हो जाता है। इसके अलावा कई जिलों के कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में भी इसी प्रकार की त्रुटि रहती है। शाम में जारी आंकड़ों के हिसाब से किसी जिला में ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज थे। परन्तु सुबह होते वो मरीज गायब या कम हो जाते हैं।

तस्वीर को ध्यान से देखिये ये तस्वीर कल गुरुवार शाम 05 बज के 12 मिनट का है। तस्वीर में आप स्पष्ट रेखांकित आंकड़ों को देख सकते हैं।

ये तस्वीर आज शुक्रवार सुबह 10 बजे तक का है। इस तस्वीर में भी आप स्पष्ट रेखांकित आंकड़ों को देख सकते हैं। अब आप दोनों को देखिए और बताइये इसे क्या कहा जाए?

हाँ, इस में एक बात ये हो सकता है की जैसे कोई मरीज बिहार के किसी और जिला का हो वो किसी और जिला में रहता हो। इस वजह से ऐसा त्रुटि हो रहा हो। हालांकि, राज्य की कुल संक्रमित मरीजों या फिर ठीक हुए मरीजों की संख्या लगभग सही रहती है। फिर भी ये त्रुटि तो है क्यूंकि मुंबई में कोई बिहार का मरीज मिलेगा तो उसको हम अपने यहाँ बिहार में नहीं न जोड़ेंगे और इटली का कोई व्यक्ति भारत में संक्रमित पाया जायेगा तो उसको इटली वाले अपने यहाँ नहीं न जोड़ेंगे।

पढ़े :   खुशखबरी: जापान की कंपनी बिहार में करेगी निवेश, ...जानिए

जो भी हो परन्तु इस खबर के प्रकाशन के बाद हम आशा करते हैं की स्वास्थ्य विभाग इस मामले पर संज्ञान लेगा और भविष्य में ऐसी त्रुटि नहीं हो इसका ध्यान रखेगा।

Leave a Reply