रेल मंत्री ने लगा दी तोहफों की झड़ी बिहटा, छपरा, गया सहित इन स्टेशनों को मिली बड़ी सौगात, …जानिए

बिहार में बाढ़ और तबाही के बीच रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने बिहार के यात्रियों के लिए तोहफों की झड़ी लगा दी।

रेल मंत्री द्वारा शुरू की गयी सेवाएं
गया : गया बाईपास की आधारशिला रखी गयी है। यह गया-मननपुर से गया पटना लाईन के मध्‍य तीन लाईन से सीधा संपर्क उपलब्‍ध करायेगा। गया स्‍टेशन पर उलटाव रोकेगा और कोयला, इस्‍पात, सीमेंट और खाद्यान्न को पटना ले जाने की गति में सुधार होगा।

बख्तियारपुर : राजगीर का विद्युतीकरण किया जायेगा। मानपुर-तिलैया-बख्तियारपुर, मुगलसराय-पटना-बख्तियारपुर-सीतापुर-हावड़ा (दिल्ली-हावड़ा मेन लाइन) तथा मुगलसराय-गया-धनबाद-सीतारामपुर-हावड़ा (ग्रांड कॉर्ड) के दो विद्युतीकृत कॉरिडोर के बीच यहां विद्युतीकरण नहीं हुआ था, जिससे इलेक्ट्रिक इंजन नहीं जाने से डीजल इंजन का परिचालन करना मजबूरी थी। विद्युतीकरण किये जाने से इलेक्ट्रिक इंजन जाने लगेगा। इससे बुद्धपूर्णिमा एक्सप्रेस, श्रमजीवी एक्सप्रेस और राजगृह एक्सप्रेस में इलेक्ट्रिक इंजन लगाया जा सकेगा। साथ ही डीएमयू के स्थान पर ईएमयू का परिचालन किया जा सकेगा।

बिहटा : यहां भी स्टेशन पर यात्री सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। प्लेटफॉर्म पर चार शेड का विस्तार, 12 बेंच, एक जल बूथ, संचारी क्षेत्र में सुधार (दक्षिण ओर) के साथ प्लेटफॉर्म संख्या एक और दो का विस्तार होगा। प्लेटफार्म का विस्तार किये जाने से यहां 24 डिब्बों वाली ट्रेनें प्लेटफार्म पर आसानी से खड़ी हो सकेंगी। अब तक लंबी ट्रेनों की बोगी प्लेटफार्म से बाहर चली जाती थीं।

छपरा : यहां भी स्टेशन पर यात्री सुविधाओं का विस्तार किया जायेगा। 24.62 करोड़ रुपये की लागत से दूसरा प्रवेश द्वार बनेगा। साथ ही छपरा स्टेशन पर वाई-फाई सुविधा गूगल की भागीदारी से रेल टेल सुविधा प्रदान कर रही है। रेलवायर वाई-फाई सेवा अभी 127 स्टेशनों पर उपलब्ध है। साथ ही स्टेशन पर 14.55 करोड़ रुपये की लागत से एस्‍केलेटर्स की सुविधा मुहैया करायी जायेगी। छपरा ग्रामीण स्टेशन पर नये मालगोदाम शैड बनेगा। छपरा ग्रामीण स्टेशन छह चालू लाइनों वाला एक क्रॉसिंग स्टेशन है। दो लाइनें विद्युतीकृत हैं तथा अन्य का कार्य जल्द पूरा कर लिया जायेगा।

पढ़े :   CM नीतीश ने आम लोगों की सुविधा के लिए 102 एंबुलेंस सेवा को दिखायी हरी झंडी, ...जानिए

भागलपुर : भागलपुर-बांका खंड को हरित गलियारा बनाने का भी ऐलान रेलमंत्री ने किया। इसमें 2019-20 तक सभी कोचों में जैव शौचालय लगाये जायेंगे।

इसके अलावा प्रभु ने ऐलान करते हुए कहा कि प्लेटफॉर्म पर इंतजार कर रहे यात्रियों को वाई-फाई सुविधा मुहैया करायी जायेगी, ताकि वे तेज गतिवाले इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकें।

प्रभु ने कहा कि पहले हमारा लक्ष्य 140 स्टेशनों पर वाई-फाई मुहैया कराना था। अब हम इस साल 200 स्टेशनों में वाई-फाई उपलब्ध कराने का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं और दो साल में, हम 400 स्टेशनों पर यह मुहैया करायेंगे। यह सेवा गूगल की साझेदारी से रेल टेल मुहैया करा रही है।

Rohit Kumar

Founder- livebiharnews.in & Blogger- hinglishmehelp.com | STUDENT

Leave a Reply

error: Content is protected !!