पहली बार राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड में बिहार के 162 बच्चे दिखायेंगे अपनी प्रतिभा, …जानिए

देश भर के तमाम आयोजनों और मंचों पर अपना हुनर दिखा चुके किलकारी के बच्चों को अपना प्रदर्शन दिखाने का एक और मौका मिला है। 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के परेड में हर साल दिल्ली के स्थानीय बच्चों के साथ देश के सर्वश्रेष्ठ कम-से-कम एक दल हो ही प्रदर्शन करने का मौका मिलता है।

इस बार यह मौका किलकारी के बच्चों को मिला है। इससे पहले कुछ ऐसे भी मौके आये थे, जब गणतंत्र दिवस समारोह में बिहार की झांकी का चयन नहीं हो पाता था। ऐसे में राज्य के इन बच्चों को सांस्कृतिक प्रस्तुति के लिए मौका मिलना बड़ी बात है।

गांधी के संदेशों पर आधारित स्वच्छता गीत प्रस्तुत करेंगे
इस प्रस्तुति में किलकारी के बच्चे महात्मा गांधी के सपनों व संदेशों पर आधारित स्वच्छता गीत को प्रस्तुत करेंगे। इसे किलकारी के ही छात्र यशरंजन सिन्हा ने लिखा है। नृत्य करने वाले बच्चे महात्मा गांधी के संदेशों पर आधारित गीत को अपने भावों से व्यक्त करने की कोशिश करेंगे। नृत्य संयोजन किलकारी के दीपक कुमार व अमरनाथ ने किया है।

दिल्ली में करेंगे पूर्वाभ्यास
जारी आदेश के अनुसार गणतंत्र दिवस की झांकी के बाद दिल्ली के तीन स्थानीय स्कूलों की प्रस्तुति होगी। इसके बाद बाहरी राज्यों से इजेडसीसी के बैनर के साथ किलकारी के 151 बच्चाें की प्रस्तुति होगी।

चार जनवरी को 151 बच्चे और 11 स्कॉट दिल्ली प्रस्थान करेंगे। सभी बच्चे अपने प्रदर्शन का पूर्वाभ्यास करेंगे, जिसके बाद 26 जनवरी को राजपथ पर इनकी प्रस्तुति होगी। भाग लेने वाले बच्चों में पटना से 98, गया से 22, भागलपुर से 19, दरभंगा से 12 बच्चे शामिल हैं।

पढ़े :   तंगी के चलते न बन सका डॉक्टर तो लिट्टी चोखा बेच अब कमाता है लाखों, ...जानिए

Leave a Reply