बड़ी खुशखबरी: मंगलवार से राजधानी, शताब्दी, दुरंतो का सफर होगा सस्ता, …जानिए

राजधानी, शताब्दी और दुरंतो एक्सप्रेस में खानपान की सेवा लेने की अनिवार्यता एक अगस्त से समाप्त कर दी गयी है। रेलवे के नये नियम के अनुसार अगर कोई यात्री खाना और नाश्ता नहीं लेना चाहता है, तो उसका किराया कम हो जाएगा। इससे किराये में लगभग 250 से 300 रुपये की कमी हो जायेगी।

रेलवे की खानपान व्यवस्था पर कैग रिपोर्ट में उठे सवालों के बाद रेलवे ने नई व्यवस्था लागू की है। अब यदि आप ट्रेन में खाना, पानी और नाश्ता नहीं लेना चाहते हैं तो रेलवे आपको बाध्य नहीं करेगा। अभी राजधानी, दूरंतो और शताब्दी में नहीं चाहते हुए यात्रियों से कैटरिंग शुल्क के रूप में चार्ज लिया जाता है।

टिकट लेते समय पूछा जाएगा विकल्प
राजधानी, दूरंतो और शताब्दी में बुकिंग काउंटर से रिजर्वेशन लेते समय ही यात्रियों से पूछा जाएगा कि उन्हें ट्रेन पर कैटरिंग की सुविधा लेनी है अथवा नहीं। अभी रिजर्वेशन कार्यालय से टिकट बुक करने पर ही यह सुविधा मिल रही है। आइआरसीटीसी की साइट से ऑनलाइन टिकट बुक कराने पर अभी भी कैटरिंग का शुल्क देना अनिवार्य है। माना जा रहा है कि एक-दो दिनों में ऑन लाइन टिकट बुकिंग में भी कैटरिंग की अनिवार्यता को समाप्त कर विकल्प दिए जाएंगे।

पढ़े :   अमरनाथ बस हादसा: घायलों और मृतकों में इतने श्रद्धालु बिहार के भी, ...जानिए

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!