खुशखबरी! सहरसा-गढ़ बरुआरी के बीच दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक इंजन लगी ट्रेनें

कोसीवासियों के लिए खुशखबरी है। मानसी-मधेपुरा की तरह सहरसा-गढ़ बरुआरी रेलखंड पर भी इलेक्ट्रिक इंजन लगी ट्रेनें चलेंगी। इसके लिए सहरसा-गढ़ बरुआरी रेलखंड पर विद्युतीकरण का काम होगा। अगस्त के अंतिम सप्ताह तक यह शुरू होगा। साढ़े 16 किलोमीटर तक विद्युतीकरण कार्य के लिए रेल निर्माण विभाग ने टेंडर निकाल दिया है। जुलाई के अंतिम सप्ताह तक टेंडर की प्रक्रिया पूरी कर कार्य एजेंसी बहाल कर दी जाएगी।

उप मुख्य अभियंता विद्युत (निर्माण) दीपक गुप्ता ने बताया कि टेंडर प्रक्रिया शुरू करने से पहले सर्वे किया गया था। प्रति एक किलोमीटर विद्युतीकरण कार्य पर 40 से 50 लाख रुपये खर्च होंगे। छह महीने में विद्युतीकरण कार्य पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

गढ़ बरुआरी-सरायगढ़ और सरायगढ़-फारबिसगंज रेलखंड पर भी होगा रेल विद्युतीकरण कार्य
गढ़ बरुआरी-सरायगढ़ और सरायगढ़-फारबिसगंज रेलखंड का भी विद्युतीकरण किया जाएगा। उप मुख्य अभियंता विद्युत (निर्माण) ने कहा कि सरायगढ़ से आगे भी विद्युतीकरण का कार्य किया जाएगा।

सरायगढ़ और सुपौल के बीच बनेगा ट्रैक्शन पावर सब स्टेशन
सरायगढ़ और सुपौल के बीच ट्रैक्शन पावर सब स्टेशन बनेगा। उप मुख्य अभियंता ने कहा कि ट्रैक्शन पावर सब स्टेशन के लिए कौन सी जगह उपयुक्त होगी और कहां जमीन उपलब्ध है इसे देखा जा रहा है।

पढ़े :   एसडीपीओ ने रजवा गांव में कोटपा अभियान चलाकर तंबाकूयुक्त पदार्थो को त्यागने का किया आह्वान

Leave a Reply