नाव हादसा: जिस डिजनीलैंड मेले पर नीतीश सरकार फोड़ रही ठिकरा उसका नहीं हुआ था उद्घाटन

नीतीश सरकार जो कि हादसे के लिये दियारा में चल रहे डिजनीलैंड मेले को जिम्मेवार ठहरा रही है और इसके पीछे तर्क है मेला में अधिकाधिक भीड़ का होना। मगर सच्चाई की बात करें तो इस मामले की सबसे बड़ी सच्चाई यह है कि जिस डिजनीलैंड मेले का हवाला दिया जा रहा है वह डिजनीलैंड चालू ही नहीं हुआ था और घटना के दिन उसके सारे गेट बंद थे।

ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यह कि डिजलीनैंड मेले के दोष देना किसके दिमाग की उपज है? डिजनीलैंड मेला, सोनपुर के सबल दियारा की सच्चाई जानकर आप हैरान हो जायेंगे।

जी हाँ जांच पड़ताल औऱ स्थानीय लोग राम प्रवेश राय और जोगिरा सिंह से बातचीत के बाद यह खुलासा हुआ कि डिजनीलैड में केवल चारो तरफ कैनात लगे हैं और अंदर केवल परती जमीन है। यह डिजनीलैंड आधा अधूरा बना था जिसका खुलना बाकी था।

मामले को लेकर लीपापोती में जुटे प्रशासन की भी इस मामले को लेकर बोलती बंद गई है हो। सोनपुर के एसडीओ और थानाध्यक्ष डिजनीलैंड से जुड़े मामले की जांच करने मौके पर पंहुचे थे लेकिन डिजनीलैंड खुला था कि बंद था यह पूछे जाने पर इनका जबाब हैरान कर देनावाल था। सोनपुर के एसडीओ ने हादसे के दिन अपनी अनुपस्थिति का हवाला दिया तो थानध्यक्ष ने जांच करने का हवाला दिया।

पढ़े :   इस नंबर पर कॉल करते ही आधार से लिंक हो जाएगा मोबाइल नंबर, ...जानिए

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!