बिहार के पंकज त्रिपाठी को मिला नेशनल फिल्म अवार्ड

बिहार के गोपालगंज जिले के रहने वाले अभिनेता पंकज त्रिपाठी को नेशनल फिल्म अवार्ड से नवाजा गया है। साल 2017 में रिलीज हुई फिल्म न्यूटन में शानदार अभिनय के लिए पंकज त्रिपाठी को स्पेशल मेंशन अवॉर्ड दिया गया है। पंकज त्रिपाठी ने अवार्ड मिलने पर खुशी जताई है।

संजीवनी का काम करती है अवार्ड: पंकज त्रिपाठी
अवार्ड मिलने पर अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि एक कलाकार के रुप में मेरे लिए यह बेहतरीन पल है। ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट करते हुए पंकज ने कहा कि एक गांव का बच्चा सपना देखा था और आज जाकर वह पूरा हुआ है। जब देश आपके काम को सम्मान देता है तो पल आपकी जिंदगी का सबसे खास क्षण होता है। सभी दर्शकों का शुक्रगुजार हूं कि उनकी बदौलत ही कुछ कर पाया हूं। मैं पिछले 20 सालों से अभिनय कर रहा हूं और ये अवार्ड मिलना मेरे लिए काफी सुखद अनुभव है।

पंकज ने कहा कि अवार्ड किसी भी कलाकार के लिए औषधि, संजीवनी बूटी की तरह काम करती है। किसी भी कलाकार को सम्मान मिलने उसे हौसला देता है और अच्छा से अच्छा करने के लिए प्रेरित करता है। इस सवाल पर कि क्या उन्हें अवार्ड मिलने की उम्मीद थी उन्होंने कहा कि अवार्ड मिलने की तो मुझे उम्मीद नहीं थी, हालांकि फिल्म काफी अच्छी थी। भविष्य को लेकर पंकज ने कहा कि कोशिश करेंगे अच्छी से अच्छी फिल्में बनाई जाए और जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने की पूरी कोशिश करेंगे।

कौन हैं पंकज त्रिपाठी ?
पंकज त्रिपाठी एक भारतीय अभिनेता हैं जिन्होंने कई बॉलीवुड फिल्मों में काम किया। 2004 में फिल्म रन के साथ अभिनय की शुरूआत करने वाले पंकज त्रिपाठी ने कड़े संघर्षों से बॉलीवुड फिल्मों में अपनी अगल पहचान बनाई है। पंकज 40 से ज्यादा फिल्म और करीब 60 टेलीविजन सीरियल में काम कर चुके हैं। पंकज की शादी 15 जनवरी 2004 में मृदुला त्रिपाठी के साथ हुई है। दोनों की एक बच्ची है। पंकज ने फुकरे, मशान, रन, गैंग ऑफ वासेपुर, ओंकारा, गुंडे, मंजिल, ग्लोबल बाबा, नील बटा सन्नाटा, धर्म और मांझी द माउंटेन मैन सहित कई सुपर हिट फिल्मों में एक्टिंग की है।

पढ़े :   बिहार में कबाड़ से बना एक अनोखा CAFE, जो देखने वालों की बढ़ा देता है एनर्जी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!