स्मार्ट होंगे बिहार के पटना और मुजफ्फरपुर, तीसरे राउंड की लिस्ट में शामिल

केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में शामिल स्मार्ट सिटी के लिए शुक्रवार को जारी 30 शहरों की सूची में बिहार की राजधानी पटना और मुजफ्फरपुर को शामिल किया गया है। सूची में पटना को पांचवें और मुजफ्फरपुर को सातवें नंबर पर रखा गया है।

शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए 25 जून, 2015 को स्मार्ट सिटी मिशन का शुभारंभ किया गया था। अब तक कुल 90 शहरों का चयन किया जा चुका है।

केंद्रीय शहरी एवं विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि 40 स्मार्ट सिटी के स्लॉट में केवल 30 शहरों को चुना गया है। नायडू ने बताया कि 30 शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए 57,393 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे।

लिस्ट में इन शहरों के नाम…
तमिलनाडु: तिरुचिरापल्ली, थूथुकुड़ी, तिरुनेलवेली, तिरुपुर; गुजरात: राजकोट, दाहोद, गांधीनगर; यूपी: इलाहाबाद, अलीगढ़, झांसी; बिहार: पटना, मुजफ्फरपुर; एमपी: सागर, सतना; छत्तीसगढ़: नया रायपुर, बिलासपुर; जम्मू-कश्मीर: जम्मू, श्रीनगर; महाराष्ट्र: पिंपरी चिंचवाड़, अमरावती; हरियाणा: करनाल; केरल: तिरुवनंतपुरम; हिमाचल प्रदेश: शिमला; उत्तराखंड: देहरादून; कर्नाटक: बेंगलुरु; तेलंगाना: करीमनगर; अरुणाचल प्रदेश: पासीघाट; सिक्किम: गंगटोक; मिजोरम: आइजोल; पुड्डुचेरी: पुड्डूचेरी

पहले फेज में चुने गए थे 20 शहर…
भुवनेश्वर (ओडिशा), सोलापुर व पुणे (महाराष्ट्र), जयपुर व उदयपुर (राजस्थान), अहमदाबाद व सूरत (गुजरात), कोच्चि (केरल), जबलपुर, इंदौर व भोपाल (मध्यप्रदेश), विशाखापट्‌टनम व काकिनाडा (आंध्र प्रदेश), दावणगेरे व बेलगांव (कर्नाटक), दिल्ली, कोयम्बटूर व चेन्नई (तमिलनाडु), गुवाहाटी (असम) और लुधियाना (पंजाब)।

दूसरे फेज में चुने गए 40 शहर…
रायपुर, लखनऊ, भागलपुर, न्यू टाउन कोलकाता, फरीदाबाद, चंडीगढ़, रांची, धर्मशाला, वारंगल, पणजी, अगरतला, इम्फाल, पोर्ट ब्लेयर, आगरा, अजमेर, अमृतसर, औरंगाबाद, ग्वालियर, हुबली-धारवाड़, जालंधर, कल्याण-डोंबिवली, कानपुर, कोहिमा, कोटा, मदुरै, मैंगलुरु, नागपुर, नामची, नासिक, राउरकेला, सालेम, शिवमोगा, ठाणे, तंजावुर, तिरुपति, तुमाकुरु, उज्जैन, वड़ोदरा, वाराणसी और वेल्लोर के नाम शामिल थे।

पढ़े :   बिहारशरीफ सहित देश के दस शहर बने स्मार्ट सिटी परियोजना का हिस्सा

अन्य दस शहरों के लिए 20 शहरों में कड़ी प्रतिस्पर्धा है…
अन्य दस शहरों के लिए जिन 20 शहरों में कड़ी प्रतिस्पर्धा है, उसमें भी बिहार का बिहारशरीफ भी शामिल है। अन्य 19 शहरों में ईटानगर (अरुणाचल प्रदेश), दीव (दमन और दीव), सिल्वासा (दादरा और नागर हवेली), कवारत्ती (लक्षद्वीप), नवलम मुंबई, ग्रेटर मुंबई और अमरावती (महाराष्ट्र), इंफाल (मणिपुर), शिलांग (मेघालय) , डिंडीगुल और ईरोड (तमिलनाडु), बिधाननगर, दुर्गापुर और हल्दिया (पश्चिम बंगाल), मेरठ, राय बरेली, गाजियाबाद, शरणपुर और रामपुर (यूपी) शामिल हैं।

इन फैसिलिटीज से लैस होंगी स्मार्ट सिटी…
– वर्ल्‍ड क्‍लास ट्रांसपोर्ट सिस्टम।
– 24 घंटे बिजली-पानी की सप्लाई।
– सरकारी कामों के लिए सिंगल विंडो सिस्टम।
– एक जगह से दूसरे जगह तक 45 मिनट में जाने की व्यवस्था।
– स्मार्ट एजुकेशन।
– एन्वायरन्मेंट फ्रैंडली।
– बेहतर सिक्युरिटी और एंटरटेनमेंट की फैसिलिटीज।

सरकार ने 2020 तक देश के 100 शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने का लक्ष्य रखा है। जिसके लिए शहरों का चयन किया गया है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!