पटना हाईकोर्ट की ऐतिहासिक पहल: अब शनिवार को भी खुलेगा कोर्ट, …जानिए

लंबित मुकदमों के बढ़ते दबाव को देखते हुए पटना हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश राजेन्द्र मेनन ने ऐतिहासिक पहल की है। अब पटना हाईकोर्ट में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 482, प्राथमिकी निरस्त, संज्ञान, चार्ज एवं द.प्र.सं. की धारा 311 एवं 319 से संबंधित मामले आपराधिक अपील (खंडपीठ एवं एकलपीठ) जहां याचिकाकर्ता कारागार में हो, सजा अथवा सजामुक्ति के विरूद्ध, सरकार की अपील आदि से सम्बंधित मामलों के अलावा सिविल रिट याचिका (खंडपीठ), न्यायाधिकरण, लोकहित एवं अवमानना वाद के लंबित मामलों की सुनवाई प्रत्येक मंगलवार और गुरूवार को निर्धारित की गयी है।

वहीं आपराधिक अपील/जेल अपील के शीघ्र निपटाने के लिए प्रत्येक शनिवार को पटना हाईकोर्ट में सुनवाई के लिए विशेष पीठ का गठन किया गया है। इस संबंध में पटना हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार (लिस्ट) ने सभी अधिवक्ताओं से आग्रह किया है कि वैसे आपराधिक अपील से संबंधित मामले जो दस वर्षों से अधिक समय से लंबित पड़े हुए हैं। विशेष पीठ के समक्ष सुनवाई हेतु मेंशनिंग स्लीप उपलब्ध करायें, ताकि आगे की कार्रवाई की जा सके।

वहीं आगामी 9 सितम्बर को पटना हाईकोर्ट में लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है। इसमें मिसलेनियस अपील (एमएसीटी के मामले), अवमानना वाद, सेवानिवृति लाभ के मामले, द.प्र.संहिता की धारा 482 (निरस्त) से संबंधित, पांच लाख से कम मूल्यांकन के भूमि विवाद के मामले सहित कई अन्य प्रकार के मामलों की सुनवाई कर सौहार्दपूर्ण माहौल में मामले का निष्पादन किया जायेगा। इस हेतु पटना हाईकोर्ट लीगल सर्विसेज कमिटी के चेयरपर्सन किशोर प्रसाद ने सभी अधिवक्ताओं से आग्रह किया है जो मुवक्किलत अपने मामलों को लोक अदालत के माध्यम से निपटारा चाहते हैं वे इस संबंध में हाईकोर्ट को सूचित करें।

पढ़े :   U-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप: ‘बिहारी ब्वॉय’ अनुकूल ने किया शानदार प्रदर्शन

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!