पेट्रोल-डीजल के दाम 90 रुपये पर पहुंचने के बाद भी खुश हैं बिहार में इन जिलों के लोग

पूरे देश में पेट्रोल-डीजल के दामों में आग लगी है। बिहार भी इससे वंचित नहीं है। लेकिन बिहार में कुछ ऐसे भी जिले हैं, जहां के ग्रामीण इलाके के लोग पेट्रोल-डीजल की कीमतों में ​बेतहाशा वृद्धि के बाद भी काफी खुश हैं।

ऐसा नहीं है कि ये लोग बढ़ते दामों के कारण पेट्रोल अथवा डीजल नहीं खरीद रहे हैं। दरअसल यह सब मामला बॉर्डर एरिया का है। बॉर्डर के पार मतलब नेपाल में पेट्रोल-डीजल की कीमत (बिहार) भारत से काफी कम है। प्रति लीटर लगभग 20 रुपये की बचत होती है। नेपाल में पेट्रोल 90 के बजाय लगभग 70 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। कुछ ऐसी ही स्थिति डीजल की भी है। डीजल भी 81 के बजाय नेपाल में 61 रुपये मिल रहा है।

ऐसे में सीतामढ़ी से लेेकर मधुबनी, सुपौल, पूर्णिया आदि जिलों के ग्रामीणों के लिए यह वरदान है। वे आसानी से पगडंडियों के सहारे साइकिल व मोटरसाइकिल से नेपाल जाते हैं और गैलेन में भर कर पेट्रोल-डीजल ले आते हैं। चूंकि एसएसबी जवानों की ड्यूटी बॉर्डर पर रहती है, इसलिए पगडंडी से नेपाल जानेवालों को कोई प्रॉब्लम नहीं होती है।

गौरतलब है की बिहार में शराबबंदी लागू होनेे के बाद बॉर्डर एरिया से सटे गांवों में शराब की तस्करी धड़ल्ले से बढ़ गयी थी। लेकिन, अब लोगों का ट्रेंड बदल गया है। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बाद अब सीमावर्ती इलाकों में पेट्रोल-डीजल की तस्करी में लोग जुट गये हैं। हालांकि लोगों का कहना है कि इसके पीछे कोई गलत उद्देश्य नहीं है। बल्कि, मैक्सिमम लोग अपने वाहनों के लिए ही इस जुगाड़ को अपनाए हुए हैं। कुछ बाइक वाले तो बिहार की सीमा में पेट्रोल भराना भूल ही गये हैं।

पढ़े :   राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री को भेजी गई मुजफ्फरपुर की शाही लीची

बहरहाल कस्टम अधिकारी की मानें तो जब से भारत और नेपाल में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बड़ा अंतर आया है, बॉर्डर पर वाहनों की जांच तेज कर दी गई है। तस्करी रोकने के लिए अभियान भी चलाया जा रहा है। जांच अभियान के कारण ही पिछले दिनों 250 लीटर डीजल जब्त किया गया था।

वैसे भारत-नेपाल बॉर्डर पर किसी भी सामानों की तस्करी कोई नई बात नहीं है। जब भी किसी भी सामानों के दामों में दोनों देश के बीच अंतर ज्यादा बढ़ जाता है तो तस्करी संगठित और बड़े स्तर पर होने लगती है। इस बार भी वही हो रहा है। इसे रोकने के लिए न तो एसएसबी उतनी सुविधा संपन्न है और न ही यहां का कस्टम।

Leave a Reply

error: Content is protected !!