‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने छठ को बताया बीमारियों से बचाने वाला पर्व

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को छठ पूजा से लाभ का जिक्र करते हुए कहा कि यह पर्व बीमारियों से बचाने में मदद करता है।

मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा, ‘सूर्य की पूजा या छठ पूजा पर्यावरण सुरक्षा, बीमारियों से बचाव और अनुशासन का पर्व है। हमारे जीवन में सफाई की महत्ता इस पर्व के साथ जुड़ी हुई है।’

मोदी ने कहा कि दुनिया सिर्फ उगते सूर्य को नमस्कार करती है लेकिन आस्था के महापर्व छठ में उनको भी पूजने का संदेश दिया जाता है जिनका डूबना निश्चित है। पीएम ने आगे कहा कि यह पर्व प्रकृति और उसकी पूजा से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि जहां सूर्य और जल इस पर्व के मुख्य केंद्र हैं, वहीं पूजा के लिए बांस, मिट्टी के घड़े और फलों का प्रयोग किया जाता है।

छठ पर्व की विशेषता बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे जीवन में स्वच्छता के महत्व की अभिव्यक्ति भी इस त्योहार में समाई हुई है। छठ से पहले पूरे घर की सफाई, साथ ही नदी, तालाब, पोखर के किनारे, पूजा-स्थल यानि घाटों की भी सफाई, पूरे जोश से सब लोग मिल करके करते हैं। सूर्य वंदना या छठ-पूजा – पर्यावरण संरक्षण, रोग निवारण व अनुशासन का पर्व है।

उन्होंने कहा कि आम तौर पर लोग कुछ मांगकर लेने को हीन-भाव से देखते हैं लेकिन छठ-पूजा में सुबह के अर्ध्य के बाद प्रसाद मांगकर खाने की एक विशेष परम्परा रही है। प्रसाद माँगने की इस परम्परा के पीछे यह मान्यता भी बतायी जाती है कि इससे अहंकार नष्ट होता है। एक ऐसी भावना जो व्यक्ति की प्रगति के राह में बाधक बन जाती है। भारत की इस महान परम्परा के प्रति हर किसी को गर्व होना बहुत स्वाभाविक है।

पढ़े :   आखिर क्यों मनाते हैं होली? ...जानें विभिन्न प्रदेशों की परम्पराएं

छठ पूजा इस साल 25 से 27 अक्टूबर तक बड़े ही धूमधाम से मनाया गया, यह पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के मुख्य पर्वों में से एक है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!