सावधान! आज से पॉलीथिन को कह दें बाय-बाय, नहीं तो देना पड़ सकता है भारी जुर्माना

बिहार में आज यानि 23 दिसंबर(रविवार) से प्रदूषण के बड़े कारक प्लास्टिक कैरी बैग को पूरी तरह बैन कर दिया गया है। इसके साथ ही राज्य में प्लास्टिक कैरी बैग के घरेलू और व्यावसायिक उपयोग, भंडारण, निर्माण और परिवहन पर रोक लग गई है। प्रतिबंध का उल्लंघन करने पर जुर्माना का प्रावधान है।

घरेलू और व्यावसायिक उपयोग, भंडारण, निर्माण तथा परिवहन करते पहली बार, दूसरी बार और बार-बार पकड़े जाने पर अलग-अलग जुर्माना लगेगा। नए कानून में 100 रुपए से लेकर अधिकतम 5000 रुपए तक जुर्माना वसूलने का प्रावधान है। आदेश का पहली बार, दूसरी बार और बार-बार उल्लंघन करने पर क्रमश: 1000 रुपए, 1500 रुपए और 2000 रुपए जुर्माना वसूला जाएगा।

प्रतिबंध से इनको है छूट
बायो मेडिकल वेस्ट के संग्रहण और भंडारण के लिए 50 माइक्रोन से ज्यादा मोटाई के कैरी बैग के इस्तेमाल पर रोक नहीं होगी। खाद्य पदार्थों के पैकिंग, दूध एवं दूध के उत्पाद की पैकिंग और नर्सरी में पौधा उगाने के लिए इस्तेमाल होने पर कैरी बैग को रोक से छूट दिया गया है।

रोक को प्रभावी बनाने के लिए 3 स्तरों पर कार्रवाई
राज्य सरकार ने रोक को प्रभावी बनाने के लिए त्रिस्तरीय व्यवस्था की गई है। निकाय और जिला स्तर पर छापेमारी के अलावा राज्य स्तर से भी जांच और छापेमारी की जाएगी। निकाय छापेमारी, जब्ती और आर्थिक दंड लगाने का अधिकारी दिया गया है। जिला स्तर पर डीएम की अध्यक्षता वाली मॉनीटरिंग कमेटी का गठन का प्रस्ताव है।

पढ़े :   खुशखबरी: बिहार में पटना के बाद अब यहां खुलेगा एम्स, ...जानिए

Leave a Reply

error: Content is protected !!