गरीब छात्रों की जिन्दगी संवारने वाले आनंद कुमार को राष्ट्रपति ने किया सम्मानित

दुनिया भर में सम्मानित होने वाले सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार को इस वर्ष राष्ट्रीय कल्याण पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में उन्हें अवार्ड से नवाजा।

भारत सरकार के महिला एवं बाल कल्याण विभाग द्वार दिए जाने वाले इस पुरस्कार के अंतगर्त एक लाख रुपए और प्रशस्ति पत्र दिए जाते हैं।

उल्लेखनीय है कि आनंद कुमार अपने घर पर ही 30 बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा देकर उन्हें आईआईटी में प्रवेश दिलाते आ रहे हैं। अभी तक उन्होंने कुल 450 वंचित तथा निर्धन परिवार के बच्चों को इंजीनियर बनाया है। आनंद की इस मुहिम में उनका पूरा परिवार लगा हुआ है।

आपको बता दें कि सुपर 30 के आनंद कुमार की जिंदगी पर प्रसिद्ध फिल्मकार रवि बहल फिल्म बना रहे हैं। जिसमें ऋतिक रोशन मुख्य भूमिका में होंगे। फिल्म अगले साल 2 नवंबर को रिलीज होगी। अवार्ड मिलने पर प्रतिक्रिया देते हुए आनंद कुमार ने कहा कि हर पुरस्कार मुझे बच्चों के लिए कुछ और करने का हौसला देता है।

मालूम हो कि सुपर 30 गणितज्ञ आनंद कुमार की कहानी है जो बिहार के एक मामूली परिवार से ताल्लुक रखते हैं। कुमार ने 1992 में छात्रों को पढ़ाने के लिए रामानुजन स्कूल ऑफ मैथमैटिक्स शुरुआत की थी। हर साल के साथ यह इंस्टिट्यूट बढ़ता चला गया और साल 2000 में कुमार ने सुपर 30 प्रोग्राम की शुरुआत की।

पढ़े :   U-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप: सेमीफाइनल में भी जारी रहा 'बिहारी ब्वॉय' अनुकूल का जलवा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!