बिहार के नियोजित शिक्षकों के आये अच्छे दिन, …जानिए

बिहार राज्य के नियोजित शिक्षकों के लिये बड़ी खुशखबरी है। अब उनके वेतन का रास्ता साफ हो गया है। राज्य के करीब पौने तीन लाख नियोजित शिक्षकों के वेतन मद का पैसा बुधवार को जारी होने की संभावना है। वित्त विभाग की सहमति मिलने के बाद शिक्षा विभाग ने भी अब राशि निकासी की सहमति दे दी है। संभावना है कि अगले हफ्ते तक शिक्षकों को चार महीने का वेतन मिल सकेगा।

नियोजित 2.66 लाख शिक्षकों को इस वर्ष अप्रैल महीने तक तो कुछ जिलों में मई महीने तक का वेतन प्राप्त हुआ है। केंद्र सरकार द्वारा सर्वशिक्षा अभियान मद की राशि नहीं जारी किए जाने की वजह से शिक्षकों को अप्रैल-मई से वेतन नहीं दिया जा सका है।

केंद्र ने हाल ही में सर्वशिक्षा अभियान मद की पहली किस्त की राशि जारी की है। केंद्र ने राज्य सरकार को 1031 करोड़ रुपये भेजे हैं। इस राशि में राज्य सरकार ने राज्यांश मद का चालीस फीसद हिस्सा यानी 687 करोड़ रुपये दिए हैं।

केंद्रांश और राज्यांश मिलाकर कुल 1718 करोड़ रुपये जिलों को भेजे जाएंगे। जिलों को आवंटन शिक्षकों की उपस्थिति के आधार पर मिलेगा। राशि से अगस्त तक का वेतन देना संभव हो पाएगा।

बिहार शिक्षा परियोजना परिषद ने आधिकारिक तौर पर बताया कि नियोजित शिक्षकों को वेतन देने के लिए उसे प्रत्येक महीने तकरीबन 580 करोड़ रुपये की आवश्यकता होती है। संभावना है कि अगले सप्ताह तक शिक्षकों के खाते में वेतन मद की राशि चली जाएगी।

पढ़े :   वित्तरहित कर्मियों को एक साथ मिलेगी तीन साल की सैलरी, जानिए बिहार कैबिनेट के अन्‍य फैसले

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!